Saturday, December 10
Shadow

रत्न विज्ञान

नीलम पहनकर करें शनिदेव प्रसन्न-नीलम रत्न(blue saffire) का प्रभाव,इतिहास,गुण और असली या नकली नीलम

नीलम पहनकर करें शनिदेव प्रसन्न-नीलम रत्न(blue saffire) का प्रभाव,इतिहास,गुण और असली या नकली नीलम

trending google, रत्न विज्ञान
नीलम पहनकर करें शनिदेव प्रसन्न-नीलम रत्न(blue saffire) का प्रभाव,इतिहास,गुण और असली या नकली नीलम blue saffire: नीलम एक महँगा और शीघ्र प्रभावशाली रत्न है। इसका स्वामी शनि ग्रह है। नीलम रत्न अनेक प्रकार के होता है जैसे नीला नीलम, श्वेत नीलम, हरा नीलम, बैंगनी नीलम आदि। लेकिन मुख्यतः ये आसमानी, चमकीले गहरे नीले, मखमली नीले आदि रंग का होता है। विभिन्न भाषाओं में इसका भिन्न-भिन्न नाम है। संस्कृत में इसे नीलमणि, इंद्रनील मणि, तृषाग्राही, फारसी में नीलाबिल याकूत, कबूद, हिन्दी में नीलम और अंग्रेजी में सैफायर या ब्लू सैफायर नाम से जाना जाता है। वैज्ञानिक दृष्टिकोण से नीलम की कठोरता 8 है और आपेक्षिक घनत्व 40.3 होता है , वर्तनांक 1.76 और दुहरावर्तन 0.008 होता है। नीलम रत्न का इतिहास  नीलम रत्ना का इतिहास काफी पुराना है। धार्मिक ग्रंथों के अनुसार दैत्यराज बलि के नेत्रों से नीलम का जन्म हुआ। भारत...
error: Content is protected !!