Shadow

रत्न विज्ञान

12 राशियों के अनुसार माणिक्य का प्रभाव Manikya se Labh-Benefits of Ruby

12 राशियों के अनुसार माणिक्य का प्रभाव Manikya se Labh-Benefits of Ruby

ज्योतिष, trending google, रत्न विज्ञान
12 राशियों के अनुसार माणिक्य का प्रभाव Manikya se Labh-Benefits of Ruby Manikya se Labh-Benefits of Ruby :सूर्य ग्रह का रत्न है माणिक्य ,यदि आपके सूर्य अच्छे हैं तो आपके जीवन मे माणिक्य का प्रभाव बहुत ही सकरात्मक होता है । जब भी हमारे जीवन में निराशा छाने लगती है, अंधकार दिखना दिखने लगता है तो हमे माणिक्य पहनना चाहिए और साथ ही सूर्य की शरण मे जाना चाहिए  लेकिन माणिक्य पहनने से पहले अपनी कुंडली खोल ये अवश्य देख लें कि माणिक्य आपकी राशि के लिए लाभदायक है या नहीं । यदि आपकी कुंडली अनुसार माणिक्य लाभदायक है तो ये आपको पड़ प्रतिष्ठा ,समाज मे मान सम्मान देता है और साथ ही रोग , निराशा , अवसाद से मुक्ति देता है। आइये जानते है विभिन्न 12 राशियों के अनुसार माणिक्य का प्रभाव (Manikya se Labh-Benefits of Ruby) 12 राशियों के अनुसार माणिक्य का प्रभाव Manikya se Labh-Benefits of Ruby मेष लग्न ...
आपकी राशि लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ Is emerald good or bad for your zodiac sign A 2 Z info

आपकी राशि लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ Is emerald good or bad for your zodiac sign A 2 Z info

रत्न विज्ञान, trending google
आपकी राशि लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ Is emerald good or bad for your zodiac sign A 2 Z info आपकी राशि लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ (Is emerald good or bad for your zodiac ) आज इस विषय को समझने का प्रयास इस पोस्ट के द्वारा हम करेंगे , मित्रों बुध मिथुन राशि और कन्या राशि के स्वामी होते है। अतः मिथुन और कन्या राशि और लग्न के लोगों के लिए पन्ना अति  लाभकारी रत्न होता है । क्योंकि पन्ना रत्न उन लोगों के लिए अति फलदायक सिद्ध होता है जिनकी राशि या लग्न के स्वामी बुध होते हैं पन्ना प्रत्येक राशि या लग्न में अलग अलग फल देता है, आइये अब जान लेते हैं कि आपकी राशि लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ ? (Emerald is good or bad for your zodiac sign A 2 Z info) आपकी राशि लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ ? is Emerald good or bad for your zodiac sign मेष लग्न के लिए पन्ना शुभ या अशुभ मेष लग्न...
मोती पहनने से लाभ या हानि-ऐसे व्यक्ति को मोती अवश्य धारण करना चाहिए Advantages and disadvantages of wearing pearls-all 12 lagna 

मोती पहनने से लाभ या हानि-ऐसे व्यक्ति को मोती अवश्य धारण करना चाहिए Advantages and disadvantages of wearing pearls-all 12 lagna 

रत्न विज्ञान, trending google
मोती पहनने से लाभ या हानि-ऐसे व्यक्ति को मोती अवश्य धारण करना चाहिए Advantages and disadvantages of wearing pearls-all 12 lagna Advantages and disadvantages of wearing pearls: ज्योतिष के नियमों के अनुसार मोती पहनने से लाभ या हानि क्या प्राप्त होगी इसे समझने के लिए आपको ये समझना होगा कि मोती चंद्रमा ग्रह को बल देने वाला रत्न है और चंद्रमा हमे अच्छा स्वास्थ्य , सुख,चंचलता, मन, मां,धन और अच्छी कल्पना शक्ति  और सुंदरता प्रदायक का कारक है और जब कुंडली में चंद्रमा शुभ होता है तो हमारे जीवन मे शांति , सुख , धन आदि की कमी नही रहती है और जीवन मे माँ का सुख अच्छा और माँ से सुख अच्छा प्राप्त होता है। सभी ग्रहों का फल उनकी महादशा , अंतर और प्रत्यंतर दशाओं के अनुसार मिलता है ठीक इसी प्रकार यदि किसी व्यक्ति के त्रिकोण या केंद्र स्थानो के स्वामी चंद्रमा हों और चंद्रमा पर शुभ ग्रहों का प्रभाव हो और वि...
moti ke labh-मोती पहनने से मिलेगा अच्छा स्वास्थ्य,धन,संपत्ति और माँ का प्यार:pearl benefits

moti ke labh-मोती पहनने से मिलेगा अच्छा स्वास्थ्य,धन,संपत्ति और माँ का प्यार:pearl benefits

trending google, रत्न विज्ञान
moti ke labh-मोती पहनने से मिलेगा अच्छा स्वास्थ्य,धन,संपत्ति और माँ का प्यार:pearl benefits moti ke labh मोती रत्न का स्वामी चन्द्रमा है। अतः इसे पहनने से चन्द्रमा सम्बंधी दोष नष्ट हो जाते हैं। विभिन्न भाषाओं में इसका भिन्न-भिन्न नाम है। संस्कृत में इसे मुक्ता, शक्तिज, इन्द्ररत्न; हिन्दी में मोती उर्दू-फारसी में सुखारीद और अंग्रेजी में पर्ल कहते हैं। वैज्ञानिक दृष्टि से मोती का रासायनिक तत्व कैल्शियम कार्बोनेट है। इसकी कठोरता 3.9 से 4.0, आपेक्षिक घनत्व 2.65 से 2.69 या 2.84 से 2.89 तक होता है। मोती के अंदर परतों की स्थिति लगभग समकेन्द्रिक एवं समानान्तर होती है। यह अपारदर्शक होता है। मोती के प्रकार - types of pearls moti ke labh-pearl benefits भारत के प्राचीन धार्मिक ग्रंथों में मोतियों के बारे में (moti ke labh-pearl benefits) विस्तार से बताया गया है जिसके अनुसार मोती moti इतने प्रक...
panna: पन्ना किसके लिए लाभकारी होता है For whom emerald is beneficial-10 facts 

panna: पन्ना किसके लिए लाभकारी होता है For whom emerald is beneficial-10 facts 

trending google, रत्न विज्ञान
panna: पन्ना किसके लिए लाभकारी होता है For whom emerald is beneficial -10 facts For whom emerald is beneficial ( panna) :आज हम जानेंगे पन्ना किसके लिए लाभकारी होता है, मित्रों पन्ना रत्न बुध ग्रह का रत्न होता है और बुध को बलवाल करने के लिए पहना जाता है पन्ना पहनने से हमारी कुंडली के बुध को बल मिलता है , बुध हमारे तत्कालिक निर्णय , प्रबंधकीय गुण , गणित , हमारी प्रसन्नता आदि मे सहायक होते हैं। बुध की ऊर्जा से हमें instant decision लेने में सहायता मिलती है आज की इस पोस्ट में हम यह जानेंगे की पन्ना रतन किस राशि चलने के लिए लाभकारी होता है पन्ना रत्न उन लोगों के लिए अति फलदायक सिद्ध होता है जिनकी राशि के स्वामी होते हैं जैसे बुध मिथुन राशि और कन्या राशि के स्वामी होते है। अतः मिथुन और कन्या राशि और लग्न के लोगों के लिए पन्ना आती लाभकारी रत्न होता है । आइये अब जान लेते हैं कि पन्न...
Pukhraj: पुखराज से करें बृहस्पति बलवान Make Jupiter strong with Topaz- A 2 Z info

Pukhraj: पुखराज से करें बृहस्पति बलवान Make Jupiter strong with Topaz- A 2 Z info

रत्न विज्ञान
Pukhraj: पुखराज से करें बृहस्पति बलवान Make Jupiter strong with Topaz- A 2 Z info Pukhraj : पुखराज एक कीमती रत्न है। इसे गुरु रत्न भी कहा जाता है यानि इसका स्वामी बृहस्पति है। पुखराज होरा और माणिक्य के बाद सबसे कठोर रत्न है, लेकिन साथ ही साथ यह मुलायम भी होता है। इसलिए इसे तते समय अत्यंत सावधानी बरती जाती है। विभिन्न भाषाओं में इसका भिन्न-भिन्न नाम है। इसे संस्कृत में | पुष्पराग, पीत स्फटिक व पीतमणि, उर्दू-फारसी में जर्द याकूत, हिन्दी में पुखराज और अंग्रेजी में टोपाज के नाम से जाना जाता है। प्राचीन शास्त्रों के अनुसार-शुद्ध व श्रेष्ठ पुखराज पीली कांति वाला, हाथ में लेने पर वजनी लगने वाला, धब्बों से रहित, पारदर्शी, चिकना, छिद्ररहित, मुलायम, पीले कनेर, चम्पा या अमलतास के फूल के रंग जैसा चमकदार होता है। यह क्षय रोग नाशक तथा यश कीर्ति, सुख-वैभव व आयु में वृद्धि करने वाला रत्न है। यदि उत्तम...
panna: पन्ना से जगाए अपना भाग्य, पन्ना की 4 पहचान ,इतिहास ,रंग आदि wake up your luck with emerald

panna: पन्ना से जगाए अपना भाग्य, पन्ना की 4 पहचान ,इतिहास ,रंग आदि wake up your luck with emerald

रत्न विज्ञान
panna: पन्ना से जगाए अपना भाग्य, पन्ना की 4 पहचान,इतिहास,रंग आदि wake up your luck with emerald panna: साथियों आज हम जानेंगे कैसे हम पन्ना से जगाए अपना भाग्य (wake up your luck with emerald) पन्ना को बुध ग्रह का रत्न कहा जाता है यानि इसका स्वामी बुध है। एकदम शुद्ध पन्ने का मिलना कठिन है। एक उच्च कोटी के पन्ने का मूल्य शुद्ध प्राकृतिक माणिक्य और हीरे से भी अधिक होता है। पन्ना (panna) के विषय मे ये कहा गया है कि इसकी आभा सूर्य के प्रकाश, छाया अथवा मोमबत्ती की क्षीण रोशनी में नष्ट नहीं होती यानि पन्ने की आभा अत्यंत निराली होती है। यदि किसी व्यक्ति की आंखें किसी वस्तु को देखते-देखते थक गई हों तो पन्ने से वे पुनः तरोताजा हो जाती हैं। यह कोमल व नरम रत्न होता है। विभिन्न भाषाओं में पन्ने के भिन्न-भिन्न नाम हैं संस्कृत में इसे मरकत, गुरुत्मत, हरिन्मणि, पाचि, गुरुडांकित, सोपर्णि, उर्दू-फारसी...
नीलम पहनकर करें शनिदेव प्रसन्न-नीलम रत्न(blue saffire) का प्रभाव,इतिहास,गुण और असली या नकली नीलम

नीलम पहनकर करें शनिदेव प्रसन्न-नीलम रत्न(blue saffire) का प्रभाव,इतिहास,गुण और असली या नकली नीलम

trending google, रत्न विज्ञान
नीलम पहनकर करें शनिदेव प्रसन्न-नीलम रत्न(blue saffire) का प्रभाव,इतिहास,गुण और असली या नकली नीलम blue saffire: नीलम एक महँगा और शीघ्र प्रभावशाली रत्न है। इसका स्वामी शनि ग्रह है। नीलम रत्न अनेक प्रकार के होता है जैसे नीला नीलम, श्वेत नीलम, हरा नीलम, बैंगनी नीलम आदि। लेकिन मुख्यतः ये आसमानी, चमकीले गहरे नीले, मखमली नीले आदि रंग का होता है। विभिन्न भाषाओं में इसका भिन्न-भिन्न नाम है। संस्कृत में इसे नीलमणि, इंद्रनील मणि, तृषाग्राही, फारसी में नीलाबिल याकूत, कबूद, हिन्दी में नीलम और अंग्रेजी में सैफायर या ब्लू सैफायर नाम से जाना जाता है। वैज्ञानिक दृष्टिकोण से नीलम की कठोरता 8 है और आपेक्षिक घनत्व 40.3 होता है , वर्तनांक 1.76 और दुहरावर्तन 0.008 होता है। नीलम रत्न का इतिहास  नीलम रत्ना का इतिहास काफी पुराना है। धार्मिक ग्रंथों के अनुसार दैत्यराज बलि के नेत्रों से नीलम का जन्म हुआ। भारत...
लाजवर्त क्यों पहना जाता है-lajvart से 3 ग्रह शांत शनि राहु केतु-Lapis Lazuli benefits -confidence, peace and harmony

लाजवर्त क्यों पहना जाता है-lajvart से 3 ग्रह शांत शनि राहु केतु-Lapis Lazuli benefits -confidence, peace and harmony

trending google, रत्न विज्ञान
लाजवर्त क्यों पहना जाता है-lajvart से 3 ग्रह शांत शनि राहु केतु-Lapis Lazuli benefits -confidence, peace and harmony Lapis Lazuli benefits: लाजवर्त एक अपारदर्शी ,चिकना,गाढ़े नीले रंग और देखने में बहुत सुन्दर रत्न है। लाजवर्त रत्न(lajvart) को शनि, राहु और केतु से मिलने वाले कष्टों से मुक्ति के लिए पहना जाता है।  लाजवर्त (lajvart) को लाजावर्त या लाजवर्द भी कहते हैं, लाजवर्त (Lapis Lazuli) के नाम से कई नकली पत्‍थर भी बाजार में मिलते हैं। नीलम रत्न जैसे ही ये भी नीले रंग का होता है। गाढ़े नीले रंग का लाजवर्त (Lapis Lazuli) ज्‍यादा अच्‍छा माना जाता है  लाजवर्त रत्न का रंग मोर की गर्दन के रंग जैसा अर्थात नीले रंग का होता है। जब आपकी कुंडली में शनि , राहु , केतु तीनो का ही बुरा फल मिल रहा हो तो किसी अच्छे मुहर्त में लाजवर्त यानि Lapis Lazuli stone धारण करें इसमें नीले रंग के साथ हल्के...