राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के सदस्य

ram-mandir-model

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर ट्रस्ट बनाने का घोषणा की। इस ट्रस्ट में एक दलित समाज का सदस्य होगा और कुल 15 ट्रस्टी होंगे ।

सर्दियों में कैसा हो खान पान winter healthy food A 2 Z information

winter healthy food

वर्ष के सभी मौसम के अपने अपने लाभ है लेकिन जब बात सर्दियों की आती है तो अधिकतर लोगों की पहली पसंद होता है सर्दियों का मौसम

बसंत पंचमी कब मनाई जाती है ?

maa-saraswati

बसंत पंचमी पर्व विद्या प्राप्ति के साथ साथ वसंत ऋतु के आगमन की ख़ुशी में भी मनाया जाता क्योंकि बसंत ऋतु को सभी ऋतुओं में सर्वश्रेष्ट माना गया है|

माँ सरस्वती आरती

maa-saraswati

साथियों समस्त संसार में जिसके पास भी विद्या है,ज्ञान है,संगीत है,सुरलय और ताल है वो सभी कुछ वीणा वादिनी-हंस वाहिनी-विद्या दायिनी माँ सरस्वती के आशीर्वाद से ही है और हिन्दू धर्म में माँ भगवती अपने भिन्न भिन्न गुणों जैसे सतोगुण , रजोगुण , तमोगुण के साथ अपने भक्तों का कल्याण करती है जिसमे माँ सरस्वती सतोगुणी , माँ लक्ष्मी रजोगुणी और माँ काली तमोगुणी देवियाँ है|

रामेश्वरम-प्रभु राम द्वारा स्थापित rameshwaram jyotirlinga know about a2z

rameshwaram jyotirlinga

रामेश्वरम् में है इस रामनाथस्वामी ज्योर्तिलिंग को प्रभु राम ने लंका पर विजय प्राप्ति की कामना से उस समय बनाया था , जब श्रीराम लंका के राजा रावण से युद्ध करने की तैयारी कर रहे थे।तमिलनाडु राज्य के रामनाथपुरम जनपद में 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक और चारों धाम में से एक धाम है रामेश्वरम…

ओंकारेश्वर मन्दिर omkareshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide

ओंकारेश्वर मन्दिर omkareshwar jyotirlinga

मध्य प्रदेश के इंदौर नगर के निकट (लगभग 77 किमी दूर ) और नर्मदा नदी के किनारे विराजित है प्रभु ओंकारेश्वर | 12 ज्योतिलिंगो में प्रभु ओंकारेश्वर का स्थान चौथा आता है |

makar sankranti( मकर संक्रान्ति ) 14 जनवरी को है या 15 जनवरी को है ?

makar sankranti image

हिन्दू धर्म के प्रमुख पर्वों में से एक मकर सक्रांति पर्व है | मकर संक्रान्ति ( makar sankranti) पर्व उस दिन को मनाया जाता है,जिस दिन सूर्य 12 राशियों में दसवी राशी यानि मकर राशी में प्रवेश करते है और सूर्य सामान्यतः 14 जनवरी या 15 जनवरी तक मकर राशी ( Capricorn ) में आ जाते है |

nageshwar jyotirlinga-प्रभु नागेश्वर मंदिर,द्वारिका,गुजरात

nageshwar jyotirlingaga

प्रभु नागेश्वर नागों के ईश्वर है इसलिए यह मंदिर विष और विष से संबंधित रोगों से मुक्ति के लिए प्रसिद्ध है। नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर परिसर में भगवान शिव की ध्यान मुद्रा में एक बड़ी ही मनमोहक विशाल प्रतिमा है जिसकी कारण यह मंदिर बहुत दूर से ही दिखाई देने लगता है

error: Content is protected !!