Wednesday, November 30
Shadow

ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय Signs of inauspicious planet and its remedies

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Table of Contents

ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय Signs of inauspicious planet and its remedies

ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय Signs of inauspicious planet and its remedies : मित्रों ग्रहों का जीवन पर प्रभाव सकरात्मक या नकरात्मक दोनों ही होता है, कुंडली में जब ग्रहों की शुभ स्थिति होती है तो लाभ होता हैं वहीँ ग्रहों का अशुभ स्थिति में होने पर हमें अपने जीवन में अनेक प्रकार की कठिनाइयाँ का सामना करना पड़ता है।

जब किसी की कुंडली में कोई ग्रह अशुभ होता है तो उसके व्यवहार में नकरात्मक गुण उत्पन्न हो जाते है और यदि हम उसके व्यवहार पर ध्यान दे तो हमें ये पता चल जाता है कि उस व्यक्ति के जीवन में कौन सा ग्रह अशुभ प्रभाव दे रहा है.

ऐसे में यदि हम उस ग्रह से जुड़े उपाय करें तो ग्रहों के बुरे फलों में कमी आती है और हमें अपने परिश्रम का पूरा फल मिलता है तो आइये जान लेते है विभिन्न ग्रहों के नकरात्मक होने के संकेत

सूर्य ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय 

जब कुंडली में सूर्य नकरात्मक होते है तो उस व्यक्ति के बोलते समय मुंह से थूक बहुत निकलता है या फिर उसे बार बार थूकने की आदत लग जाती है। सूर्य नकरात्मक होने पर व्यक्ति अहंकारी बन जाता है। ऐसे व्यक्ति किसी को सम्मान देने में अपना अपमान समझते हैं,

नेत्र व हृदय रोग की बहुत अधिक संभावना होती है,जहाँ कार्य करते हैं वहाँ बॉस से बहुत कम ही बन पाती है ,इन लोगों के लिए सरकारी नौकरी मिलना बहुत कठिन होता है और सरकारी काम में निश्चित ही कठिनाई आती है, सरकार से कानूनी विवादों में फंसने के योग भी बन जाते हैं

सूर्य के नकरात्मक होने पर उपाय 

ऐसे लोगों के लिए सुबह उठाना बहुत कठिन होता है ,इन लोगों को सुबह उठ कर स्नानादि के बाद सूर्य देवता को अर्ध्य देना चाहिए, लाल या काली गाय की सेवा करनी चाहिए.

चंद्रमा ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय 

जब कुंडली में चंद्रमा नकरात्मक होते है तो व्यक्ति मन से अशांत हो जाता है, उसे परिवार में सुख और शांति की कमी अनुभव होती है,सर्दी जुखाम और कफ जनित सांस के रोग होने की सम्भावना बन जाती है, मन में बिना किसी कारण के एक अनजाना सा भय या घबराहट रहती है, घर में माता का स्वास्थ्य खराब रहता है अथवा माता से दूरियां बन जाती है

रात में नींद न आना चंद्रमा के नकरात्मक होने का सबसे बड़ा संकेत है

चंद्रमा के नकरात्मक होने पर उपाय

परिवार के बड़े बुजुर्गों, ब्राह्मणों, साधु और स्वंम की माँ के पांव छूकर आशीर्वाद अवश्य लेना चाहिए, घर में जल को व्यर्थ ही फैलाना या बर्बाद नही करना चाहिए.

रात में सोते समय सिरहाने के नीचे जल रख कर दूसरे दिन सुबह उसे बबूल के पेड़ की जड़ में या बबूल के पेड़ न होने पर किसी भी पौधें की जड़ में डालना चाहिए

माता की सेवा करने से चंद्रमा के शुभ फल मिलने शुरू होते हैं। घर के बुजुर्गों, साधु और ब्राह्मणों के पांव छूकर आशीर्वाद लेने से धीरे धीरे चंद्रमा ठीक होने लगते हैं । घर की उत्तरी पश्चिमी दिशा पर चंद्रमा का अधिकार होता है इसलिए यहाँ घर का कबाड़ , जंग खाया लोहा या खाराब हो चूका सामान कभी न रखे . इस स्थान पर सफ़ेद सुगन्धित पेड़ पौधों के गमले लगाये जा सकते हैं जिससे चंद्रमा का शुभ प्रभाव मिलने लगेगा

मंगल ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय 

जब कुंडली में मंगल नकरात्मक होते है तो हमारे व्यक्तित्व में आलस्य ,अत्यधिक क्रोध व चिड़चिड़ा पन बढ़ जाता है , काम करते समय या गाड़ी चलाते समय दुर्घटना होने की संभावना बढ़ जाती है और इसके साथ ही शरीर में रक्त दूषित होने या रक्त कम होना या किसी भी प्रकार का रक्त  विकार होना , आग से जलना,दुर्घटनाओं का होता रहना मंगल के अशुभ होने का संकेत है।

मंगल अशुभ होने पर भाइयों से विरोध या मनमुटाव और भूमि क्रय विक्रय या पारिवारिक भूमि को लेकर विवाद आदि की संभावना बढ़ जाती है

मंगल अशुभ या निर्बल होने पर पौरुष क्षमता में भी कमी आती है यानि नपुंसकता की समस्या आ सकती है

मंगल के नकरात्मक होने पर उपाय

भाइयों और ताऊ ताई की आवश्यकताओ पर ध्यान दे , विधवा स्त्री की सहायता करें , लाल रंग की मिठाई हनुमान जी को अर्पित कर उनके भक्तो में बाँट दें, हनुमान जी को चोला अर्पित करें

ज्योतिष उपाय 7 Astrological Remedies

 

बुध ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय 

आपकी कुंडली में बुध के अशुभ प्रभाव का सबसे बड़ा लक्षण है कि आपकी वाणी दूषित हो जाती है, आप जो सोचते हो ठीक वैसा ही नही बोल पाते हो, शरीर में नपुंसकता आने लगती है ,आत्मविश्वास में कमी आ जाती है ,किसी बात पर तत्काल निर्णय लेने की क्षमता कम या बिलकुल ही समाप्त हो जाती है.

बहन , बुआ और मित्रों का व्यवहार आपके प्रति अच्छा नही होता है या उनसे दूरी बनने लगती है , शिक्षा और व्यापार में हानि होने लगती है साथ ही व्यापार में दिया धन अटकने लगता है , जीवन में से हास्य परिहास बहुत कम हो जाता है , घर में लगे पेड़ पौधे और तुलसी जी बार बार स्वतः समाप्त हो जाती हैं

बुध ग्रह के नकरात्मक होने पर उपाय

फिटकरी से दांत साफ करें और कैसे भी दांतों को गन्दा न होने दे , गायों को प्रतिदिन या कम से कम बुधवार को पालक खिलायें , घर की dustbin को खाली रखें और बोलते समय सोच विचार कर बोले, बहनों से व्यवहार ठीक रखें

गुरु ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय 

गुरु ग्रह का अशुभ होना सबसे अधिक हानिकारक होता है ,गुरु ग्रह के अशुभ होने पर समाज में सम्मान  की कमी हो जाती है ,लोग व्यर्थ ही आपकी निंदा करते हैं , आपके घर पर मेहमान , रिश्ते नातों का आना बहुत कम या बंद हो जाता है, साधु संतो या बड़े ज्ञानी जनो से बहस या अन्य विवाद होने लगते हैं

घर में पुरुष संतान का जन्म नही होता है और परिवार में मंगल कार्यक्रम का आयोजन बहुत कम या बंद ही हो जाता है , शरीर मे मोटापा या सूजन आने लगती है , अपने धर्म से अधिक दूसरे का धर्म आकर्षित करता हैं।

गुरु ग्रह के नकरात्मक होने पर उपाय

अपने धर्म और साधु संतो का उपहास या अपमान न करें, साधु को पीले वस्त्र का दान करें, अपने ईष्ट देवता का पूजन करें , मंदिर जायें और पीपल के पेड़ की जड़ जल से सींचें ,धर्म स्थान या स्कूल में वहां की आवश्यकता के अनुसार बृहस्पति वार को दान करें

शुक्र ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय 

यदि जीवन में सुखों की कमी का अनुभव हो रहा हो , स्त्रियों से वाद विवाद होने लगे हों , प्रेम संबंधों में असफलता ही मिलती हो ,कितने भी कपड़े खरीद लों लेकिन सभी जल या फट जा रहे हों , घर में दूध दही मक्खन बहुत ही कम आता हो , यौन सुख में कमी आ रही हो , शरीर में त्वचा रोग या गुप्त रोग हो गया हो और ठीक नही हो रहा हो , हाथ का अँगूठा बेजान हो या चोटिल हो गया हो तो जान लीजिये कि आपका शुक्र अशुभ या निर्बल है

किसी पर भी हृदय आ जाने की प्रवृति भी अशुभ / निर्बल शुक्र का संकेत है ,

विवाह में रुकावट,   प्रेम में धोखे की प्रवृत्ति शुक्र में अशुभ होने के लक्षण हैं। पुरुषों की कुंडली में शुक्र अशुभ या निर्बल होता है तो विवाह नही हो पाता है या कोई स्त्री सुंदर ही नही लगती है या जो अच्छी लगती है वो आपको पसंद ही नही करती है या किसी any कारण से उसके साथ आपका विवाह नही हो पाता है

शुक्र ग्रह के नकरात्मक होने पर उपाय

शुक्र वार को सुहागिनों स्त्रियों को श्रिंगार का सामान देने से या आप विवाहित है तो शुक्र वार को multicolor साड़ी अपनी पत्नी को लाकर दें , रात के समय बैठी हुई सफ़ेद गाय को गुड़ दें या रात के समय अपने भोजन की प्रथम रोटी गाय को दें, चावल या साबूदाने की खीर माता लक्ष्मी को अर्पित कर परिवार के साथ ग्रहण करें , उसमे थोड़ी छोटी इलाइची भी दाल लें,शुक्रवार को नए वस्त्र या घर गृहस्थी का सामान न खरीदें

शनि ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय

जब आपकी कुंडली में शनि अशुभ हो तो आप स्वंम या आपके परिवार में कोई व्यक्ति लंबे समय तक चलने वाले रोगों से पीड़ित होता है , आपका मूल्यवान सामान खोने या चोरी होने लगता है , जीवन में आलस्य , दरिद्रता, अत्यधिक निद्रा आने की समस्या और जीवन से वैराग्य बढ़ने लगता है , हमारे शरीर में पांव में या नसों, मल  मूत्र  विसर्जन से जुड़े अंगो में रोग लगने लगता है

आपके वाहन अधिकतर ख़राब ही रहते हैं और मकान में दरारे आने लगती है , घर के पालतू पशु मरने लगने हैं

शनि ग्रह के नकरात्मक होने पर उपाय

काले कुते को शनिवार को सरसों का तेल लगा कर रोटी खिलाएं या किसी वृद्ध साधु को लोहे का तवा या चिमटा दान करें या डाकोत यानि जो डिब्बा लेकर सरसों का तेल दान में मांगते हैं , उनको नियमित या न्यूनतम शनिवार को सरसों का तेल का दान करें, कभी किसी की कोई भी वास्तु या धन न चुराएँ , निर्धन मजदूर की मजदूरी समय से और पूरी दें

राहू ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय

अशुभ राहु के लक्षण में सबसे बड़ा लक्षण है कि उस व्यक्ति में नशा,मांस-मदिरा, जुए सट्टे का शौक होगा किन्तु इन सबमे उसका धन बर्बाद होगा , उस व्यक्ति के इलेक्ट्रोनिक सामान खोते रहते होंगे या ख़राब और टूटते फूटते रहते होंगे

ऐसे व्यक्ति को शेयर मार्केट या कमोडिटी मार्केट में सदैव हानि होगी , ऐसे लोग बिना अपनी क्षमता देखे किसी भी व्यक्ति से लड़ जाते हैं , दूसरों के धन को हड़पने की या अनैतिक कार्यों से धन कमाने प्रवृति होती है , यदि आपके घर में बल्ब बहुत जल्दी जल्दी ख़राब होते है तो समझिये आपके राहु अशुभ फल दे रहें हैं

 राहू ग्रह के नकरात्मक होने पर उपाय

नेत्रहीन या विकलांग व्यक्ति की सहायता करें, देर रात तक जागना छोड़कर सुबह उठने का प्रयास करे , किसी अवसर या समारोह में लोगों को कांच से बनी या इलेक्ट्रॉनिक सामान गिफ्ट करें , घर के दक्षिणी पश्चिमी कोने को साफ़ रखें , यदि विवाहित है तो ससुराल से संबंध अच्छा रखने का प्रयास करे

घर में तुलसी जी और अन्य सुगंधित पौधे लगा कर रखें और पक्षियों के खाने के लिए अनाज डाले , शराब या सिगरेट छोड़ने का प्रयास करे

केतू ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय

कुंडली में केतु के अशुभ होने पर व्यक्ति भ्रमित रहता है और दूसरों पर संदेह करने की प्रवृति होती है ,समय पर नींद न आना अशुभ केतु का सबसे बड़ा लक्षण है , केतु अशुभ होने पर उस व्यक्ति की अपनी माँ से नही बनती है , ऐसे व्यक्ति को दुर्घटना में बार-बार पैर में ही चोट लगती है 

यदि कुते आपको बार बार काटने के लिए दौड़ते है तो समझिये केतु अशुभ है , ऐसे व्यक्ति को धर्म समझ में नही आता है जबकि वो इसे समझना बहुत चाहता है , ऐसे व्‍यक्ति के पैर के अँगूठे के नाखून टूटकर गिरते रहते हैं

केतू ग्रह के नकरात्मक होने पर उपाय

केतु को ठीक करने के लिए कुतों की सेवा करें , किसी कुष्ठ  रोगी को दुरंगा काला सफ़ेद कंबल दान करें , बृहस्पतिवार को नींबू का दान करें 

निष्कर्ष :

साथियों हमें आशा है कि आपको ये पोस्ट  “ग्रह के अशुभ होने के संकेत और उसके उपाय Signs of inauspicious planet and its remedies ” पसंद आई होगी , यदि हाँ तो इसे अपने जानने वालों में share करें। , कुंडली विश्लेषण के लिए हमारे WhatsApp number 8533087800 पर संपर्क कर सकते हैं

अब यदि कोई ग्रह ख़राब फल दे रहा हो , कुपित हो या निर्बल हो तो उस ग्रह के मंत्रों का जाप , रत्न आदि धारण करने चाहिए ,

अपना ज्योतिषीय ज्ञान वर्धन के लिए हमारे facebook ज्योतिष ग्रुप के साथ जुड़े , नीचे दिए link पर click करें

श्री गणेश ज्योतिष समाधान 

********************************************************

 

ये भी पढ़े : कैसे 7 महिलाओं ने 50 पैसे को 1600 करोड़ बनाया– पदमश्री जसवंती बेन पोपट inspirational success story of lijjat papad

 

करसनभाई पटेल Success story of Karsanbhai Patel

ये भी पढ़े : कभी साइकिल से बेचा वाशिंग पाउडर-आज 600 मिलियन डालर से अधिक के स्वामी-करसनभाई पटेल Success story of Karsanbhai Patel

Rajnikant Success story in Hindi

ये भी पढे : कैसे एक कारपेंटर 350 करोड़ की सम्पति का स्वामी है,Rajnikanth Success story in Hindi

****************************************

सरल भाषा में computer सीखें : click here

****************************************

मूर्खों का बहुमत- पंचतंत्र की कहानी - panchtantra ki kahaniyan The Majority of Fools Story In Hindi

ये भी पढे : मूर्खों का बहुमत– पंचतंत्र की कहानी – panchtantra ki kahaniyan The Majority of Fools Story In Hindi

 

funny Panchatantra Story of the king and the foolish monkey राजा और मुर्ख बंदर की कहानी

ये भी पढे : राजा और मुर्ख बंदर की कहानी No1 funny Panchatantra Story of the king and the foolish monkey

पुरुष और स्त्री की कुंडली में अवैध संबंध के योग 21 extramarital affairs conditions

ये भी पढ़े : पुरुष और स्त्री की कुंडली में अवैध संबंध के योग 21 extramarital affairs conditions

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!