Sunday, September 25
Shadow

चार धाम Char dhaam

रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग -प्रभु राम द्वारा स्थापित 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक jyotirlinga rameshwaram made by lord ram 

रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग -प्रभु राम द्वारा स्थापित 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक jyotirlinga rameshwaram made by lord ram 

12 jyotirlinga, चार धाम Char dhaam, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage, दक्षिण भारत के तीर्थस्थल
रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग-प्रभु राम द्वारा स्थापित 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक jyotirlinga rameshwaram 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग( jyotirlinga rameshwaram ) तमिलनाडु राज्य के रामनाथपुरम जनपद में स्थित है , ये हिन्दू धर्म में अति पवित्र माने जाने वाले चारों धाम में से एक धाम भी है | रामेश्वरम तमिलनाडु के चेन्नई नगर से लगभग 592 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हिन्दू धर्म का पवित्र तीर्थस्थल है।   रामेश्वरम् (rameshwaram jyotirlinga) में स्थित इस रामनाथस्वामी ज्योर्तिलिंग को प्रभु राम ने लंका पर विजय प्राप्ति की कामना से उस समय बनाया था जब प्रभु श्रीराम लंका के राजा रावण से युद्ध करने की तैयारी कर रहे थे।  भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए श्रीराम ने इस शिवलिंग का निर्माण किया था और उस पर जल चढ़ाया था। हिन्दू धर्म में जैसे उत्तर में काशी का महत्व है,ठीक उसी प्रकार रामेश्व...
jagannath temple:श्री जगन्नाथ मंदिर के ऊपर ध्वज वायु के विपरीत दिशा में ही लहराता है jagannath puri  char dham A 2 Z Complete & Easy Guide

jagannath temple:श्री जगन्नाथ मंदिर के ऊपर ध्वज वायु के विपरीत दिशा में ही लहराता है jagannath puri  char dham A 2 Z Complete & Easy Guide

चमत्कारी मंदिर, चार धाम Char dhaam, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage, पूर्व भारत के तीर्थस्थल
jagannath temple:श्री जगन्नाथ मंदिर के ऊपर ध्वज वायु के विपरीत दिशा में ही लहराता है jagannath puri  char dham A 2 Z Complete & Easy Guide (jagannath story) jagannath temple : जगन्नाथपुरी उड़ीसा राज्य के पुरी नगर में बंगाल की खाड़ी के तट पर स्थित वो तीर्थ है जहाँ समस्त सृष्टि के स्वामी  श्री जगन्नाथ विराजित है| हिन्दू धर्म में अति पवित्र चार धाम (char dham) में से एक धाम है जगन्नाथ पुरी (jagannath puri) , अन्य तीन धाम है – बद्रीनाथ,द्वारिका और रामेश्वरम| हिन्दू धर्म में कुछ लोगों का ऐसा भी मानना है कि 4 धामों में बद्रीनाथ,केदारनाथ,यमनोत्री और गंगोत्री आते है| जगन्नाथ पुरी (jagannath temple ) एक वैष्णव मंदिर है जो अपनी बेहतरीन नक्काशी व भव्यता लिए प्रसिद्ध है जहाँ भगवान विष्णु के अवतार श्री कृष्ण हीं प्रभु जगन्नाथ कहलाते है| श्री जगन्नाथ मंदिर में भगवान जगन्नाथ, बलभ...
बद्रीनाथ धाम-प्रभु विष्णु  का दूसरा निवास स्थान How to reach badrinath dham 1 of the char dham yatra-Complete & Easy Guide

बद्रीनाथ धाम-प्रभु विष्णु  का दूसरा निवास स्थान How to reach badrinath dham 1 of the char dham yatra-Complete & Easy Guide

उत्तर भारत के तीर्थ, चार धाम Char dhaam, छोटा चार धाम Chota char dham, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage
बद्रीनाथ धाम-प्रभु विष्णु का दूसरा निवास स्थान How to reach badrinath dham 1 of the char dham yatra-Complete & Easy Guide badrinath dham-char dham : बद्रीनाथ धाम उत्तराखण्ड राज्य के चमोली जनपद में अलकनन्दा नदी के तट पर स्थित है जो बैकुंठ के बाद प्रभु विष्णु  का दूसरा निवास स्थान है | बद्रीनाथ धाम (badrinath dham )  में भगवान विष्णु की शालिग्राम से बनी हुई लगभग 3.3 मीटर स्थापित है और कहा जाता है की इस मूर्ती को आदि शंकराचार्य ने नारद कुंड से निकालकर यहाँ स्थापित किया था और ये भी कहा जाता है की भगवान् विष्णु की ये मूर्ती स्वंम प्रकट हुई थी और ये किसी मानव के द्वारा निर्मित मूर्ती नही है | बद्रीनाथ तीर्थ के महत्व और प्रसिद्धि के कारण ही यहाँ का पूरा क्षेत्र ही बद्रीनाथ धाम (char dham )  कहलाता है , साथ ही ये भी कहा जाता है कि यहाँ कभी बद्री (बेर) के वृक्षों के के घन...
द्वारिकाधीश मंदिर (dwarikadheesh temple) A 2 Z Complete & Easy Guide

द्वारिकाधीश मंदिर (dwarikadheesh temple) A 2 Z Complete & Easy Guide

चार धाम Char dhaam, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage, पश्चिम भारत के तीर्थ
द्वारिकाधीश मंदिर(dwarikadheesh temple) A 2 Z Complete & Easy Guide द्वारिकाधीश मंदिर (dwarikadheesh temple) गुजरात के जामनगर जनपद में गोमती नदी जिसे गोदावरी के नाम से भी जाना जाता है के तट पर स्थित है और ये वो प्रभु श्री कृष्णा की नगरी द्वारका है जिसके विषय में कहा जाता है कि इसे देवताओं ने एक ही रात में बना दिया था | हिन्दू धर्म के अनुसार द्वारिकाधीश मंदिर का निर्माण भगवान श्री कृष्ण के पोते वज्रभ ने करवाया था जिसको कालांतर में पुनःस्थापित आदि शंकराचार्य ने किया| गुजरात के अहमदाबाद से लगभग 380 किलोमीटर की दूर स्थित है द्वारका । इस नगरी का निर्माण प्रभु श्री कृष्णा ने मथुरा छोड़ने पर किया था और अपने सभी बंधू बान्धव के साथ यहाँ निवास किया था |ये वही द्वारका है जिसे द्वारकापुरी ,जगत मंदिर और त्रिलोक मंदिर के नाम से भी जाना जाता है और ये प्रभु कृष्णा की सप्तपुरियों में से एक है । ...
error: Content is protected !!