computer network in hindi-types of network topology LAN MAN WAN a 2 z easy explanation

computer network-types of network-LAN MAN
अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Table of Contents

Computer network in hindi-types of network topology LAN MAN WAN a 2 z easy explanation

साथियों computer network उस network को कहते है जिसमे विभिन्न स्थानों पर स्थित अलग अलग computers और peripheral devices एक दूसरे से किसी  network topology को मानते हुए जुड़े होते हैं और एक दूसरे के साथ  LAN MAN WAN की सहायता से data / information शेयर करते है , 

चूँकि इसमें अनेक computers एक net में एक साथ work करते हैं इसलिए इसे computer network कहते हैं , यानि काम करने का ऐसा तरीका जिसमे सब एक दूसरे से जुड़े हुए है और एक दूसरे के साथ मिलकर काम करते है |

network concept पर बहुत सारी companies भी काम करती है किन्तु हम computer की बात कर रहे है तो आइये जानते है computer network क्या है और कैसे काम करता है |

What is computer network ( types of network ) 

(computer network notes in hindi)

जब 2 या 2 से अधिक computer एक दूसरे से data, information की sharing के लिए जुड़े होते है तो इस प्रकार के जुडाव को computer network कहते है| computers network में computer और computers से जुड़ी devices एक दूसरे के साथ data , information की sharing के लिए communication करती है |

अब समझते है network कितने प्रकार के बन सकते है :-

Wired and wireless computer network

(guided and unguided computer network)

wireless wired computer network

Wired computer network (guided media) 

इस प्रकार के network में computers के बीच data, information का transmission, तारों के द्वारा होता है| इस प्रकार के media को guided media कहते हैं , इन तारों को किस प्रकार के प्रयोग करने है ,ये हम हमारी आवश्यकता और budget के अनुसार तय कर सकते है | ये तार अनेक प्रकार के होते है

जैसे :

copper wire, twisted pair या fiber optic

Wireless computer network (unguided media)

इस प्रकार के network में computers के बीच data, information का transmission तारों के बिना होता है| इस प्रकार के media में तारों का प्रयोग नहीं किया जाता है और ये unguided media कहलाते हैं , ये भी अनेक प्रकार के होते है

जैसे :-

Infrared ,Broadcast Radio, Cellular Radio, Microwaves, Communications Satellite

Computer Network कितने बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है , इस आधार पर आइये समझते है computer network

ये मुख्यतः 3 प्रकार के होते है जैसे

LAN MAN WAN

LAN – लोकल एरिया नेटवर्क

MAN – मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क

WAN – वाइड एरिया नेटवर्क,

 

Interprocessor Distance 

Processors Location

Network Types 

10 meter 

Room

LAN

100 meter

Building

LAN

1 kilometer

Campus

LAN

10 kilometer 

City

MAN

100 kilometer

Country

WAN

1000 kilometer (& above) 

Continent

WAN

10000 kilometer (& above) 

Planet

INTERNET

Computer science जुड़े अनेक लोगों का मानना है कि PAN-(PERSONAL AREA NETWORK) (पर्सनल एरिया नेटवर्क)- एक अलग category है लेकिन ये mainly, LAN – लोकल एरिया नेटवर्क का ही हिस्सा है| तो आइये हम इसे भी समझते है|

computer network-types of network-LAN MAN

PAN- (Personal Area Network)(पर्सनल एरिया नेटवर्क)

जब 10 मीटर की range में अलग अलग प्रकार की electronic devices एक दूसरे से wired या wireless जुड़े होते है और images और songs etc एक दूसरे से share करते है|

जैसे एक mobile phone से दूसरा mobile phone , एक mobile phone से एक printer ,एक mobile phone से एक computer या laptop etc

LAN (Local Area Network)(लोकल एरिया नेटवर्क)

किसी एक स्थान पर खड़े होकर 1 किमी के radius (त्रिज्या) में जब computer और computer peripheral को एक दूसरे के साथ जोड़ दिया जाता है तो जो network बनता है,वो Local Area Network ( LAN ) कहलाता है | इस प्रकार के network मुख्यतः किसी school , bank , railway station etc में बने होते है|

ये LAN किसी दूसरे LAN से जुड़ा हो सकता है और नही भी जुड़ा हो सकता है | इस प्रकार के अधिकतर network निजी होते है और इन network पर उसी व्यक्ति या संस्था का अधिकार होता है , जिसने इसे बनाया होता है| LAN में data transfer speed 100 mbps – 1000 mbps ( या 1 gbps) होती है|

LAN network design अनेक प्रकार के होते है, इसको बनाने में switch / hub / ethernet cable etc का प्रयोग किया जाता है | ये wireless भी बनाये जाते है

WLAN (WIRELESS LOCAL AREA NETWORK ):-

Wireless Local Area Network  में दो या दो से अधिक computer या उपकरणों को जोड़कर वायरलेस संचार के माध्यम से Local  Area Network बनाया जाता है 

WLAN में एक निश्चित और सीमित क्षेत्र में जैसे स्कूल कॉलेज , कंप्यूटर लाइब्रेरी , कार्यालय परिसर , लैपटॉप, कंप्यूटर, स्मार्टफोन, वेब टीवी, प्रिंटर आदि  में उपयोग में लाया जाता है।

Wireless Local Area Network या WLAN में गेटवे के द्वारा  बड़े स्तर पर internet connectivity प्रदान की जाती  है।

Wireless Local Area Network या WLAN को ही आम भाषा में वाई-फाई (Wi Fi) कहा जाता है। WLAN में जुड़े हुए computer और अन्य उपकरण mobile यानि चलायमान हो सकते है | इस प्रकार का network घर, स्कूल, computer lab ,offices के भीतर wireless communication के लिए उपयोग किया जाता है |

LAN से बड़ा network MAN होता है|

example :- hospital, school, colleges, bank etc में बने networks

LAN की फुल फॉर्म 

Local Area Network 

MAN( Metropolitan Area Network)(मेट्रोपोलिटन एरिया नेटवर्क):-

ये network LAN से बड़ा होता है और किसी city में अलग अलग स्थानों पर बने अलग अलग बहुत सारे LAN को एक दूसरे के साथ जोड़कर बनाया जाता है | इस network में लगभग 10km से 100km तक के area cover हो जाता है और इसीलिए MAN Network को बनाने के लिए बहुत सारे LAN Network एक दूसरे के साथ जोड़े जाते हैं 

Metropolitan Area Network  में जितने भी LAN होते है उन LAN में computer और अन्य devices का संयोजन भिन्न भिन्न प्रकार का होता है जिसे network topology कहते है जिसे हम अपने दूसरे article – network topology में पढेंगे. 

WAN की तुलना में MAN में डाटा ट्रांसफर speed अधिक होती है और इसमें WAN की तुलना में data अधिक secure रहता है ।

एक MAN network को बनाने के लिए fiber optic cables को प्रयोग किया जाता है।

MAN LAN Network से बहुत बड़ा होता है इसलिए इसे maintain करना कठिन होता है। इसमें LAN की तुलना में data security भी कम होती है।

MAN (Metropolitan Area Network) को बनाने के लिए fiber optic cables को प्रयोग किया जाता है इसलिए LAN की तुलना में इसकी cost भी अधिक होती है।

example :- local television network

MAN की फुल फॉर्म 

Metropolitan Area Network 

WAN ( Wide Area Network )(वाइड एरिया नेटवर्क):-

जहाँ LAN 1 किमी (किसी क्षेत्र विशेष में) तक और MAN 10 किमी ( किसी city में अलग अलग क्षेत्रों को मिलाकर बना ) तक फैला होता है , वहीँ WAN या वाइड एरिया नेटवर्क पूरे राज्य या देश स्तर तक फैला होता है और 100-1000 किमी या उससे भी बड़े क्षेत्र में फैले computer और अन्य devices को connect करता है | telecommunication (दूरसंचार) companies के network WAN के उदाहरण है |  

WAN में अनेक छोटे नेटवर्क होते हैं जिसमे बहुत सारे लोकल एरिया नेटवर्क local network(LAN) और मेट्रोपॉलिटन एरिया नेटवर्क metropolitan area network (MAN) आते हैं

WAN में data और information को एक बड़े बड़ी भौगोलिक दूरी यानि geographical distance पर transmit किया जाता है, WAN में पूरा देश cover हो सकता है 

अनेक business organisation और companies बड़े भौगोलिक क्षेत्रों (geographical areas) में अपने ग्राहकों, कर्मचारियों और आपूर्तिकर्ताओं के बीच data information के लें दें के लिए WAN का उपयोग करती हैं। 

WAN में data transmission में Fiber optics, Microwave या Satellite transmission प्रयोग किये जाते है|

WAN की फुल फॉर्म 

Wide Area Network 

Also Read :  Operating system Single User Operating System Multi User Operating System A 2 Z

 

कंप्यूटर नेटवर्क टोपोलॉजी क्या है | What is Computer Network Topology in Hindi

किसी भी computer network में व्यवस्थित सभी computers और peripheral devices को node कहा जाता है , नेट्वर्क में ये nodes  एक दूसरे के साथ कैसे जुड़े हुए हैं , ये computer network topology से ही पता चलता है

Topology  ग्रीक भाषा के 2 शब्दों topo और logy से मिलकर बना है , ग्रीक भाषा में topo का अर्थ स्थान  (place) और logy का अर्थ अध्ययन (study) होता है ।

इस प्रकार कंप्यूटर नेटवर्क टोपोलॉजी, किसी नेटवर्क में उपस्थित computers और peripheral devices की आकृति को कहते हैं , network topology से ही यह तय होता है network में सभी Nodes के बीच आपस में data / information शेयरिंग कैसे होगी

नेटवर्क टोपोलॉजी कितने प्रकार के होती है ?

किसी भी computer network में नेटवर्क टोपोलॉजी को physically (भौतिक रूप से) और logically (तार्किक रूप से ) बनाया और प्रयोग किया जाता है , इस प्रकार किसी नेटवर्क संरचना में एक समय में एक Physical Topology और अनेक Logical Topology बन सकते हैं।

इस प्रकार हम कह सकते है कि

network topology  2 प्रकार की होती है Physical Topology  और Logical Topology

आइये अब समझते है

Physical Topology क्या है (What is Physical Topology)

Computer network में Physical topology  में सभी computers / nodes  का एक दूसरे के साथ वास्तविक जुडाव और स्थिति का पता चलता है जैसे विभिन्न computer और peripheral devices का वास्तविक स्थान, वर्कस्टेशन और नेटवर्क बनाने में लगी केबल, स्विच,connectors आदि का भौतिक लेआउट आदि ।Physical Topology  में किसी भी नेटवर्क की हार्डवेयर संरचना का पता चलता है जैसे किसी नेटवर्क को बनाने में प्रयोग हुए हार्डवेयर एक दूसरे से कैसे जुड़े हुए हैं

Logical Topology क्या है (What is Logical Topology)

Logical Topology में ये निर्धारित किया जाता है कि एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में data flow कैसे किया जायेगा, इसे बनाते समय नेटवर्क प्रोटोकॉल ( data transfer के नियम ) , नेटवर्क मार्ग ( network path) को ध्यान में रखा जाता है और इस network में होने वाला data transfer पहले से सोचे गये ( conceptual / logical ) यानि पूर्व निर्धारित नियमों और मार्गों का अनुसरण करते हुए होता है

कंप्यूटर नेटवर्क टोपोलॉजी के प्रकार Types of computer network topology in hindi

Bus Topology 

bus topology

कंप्यूटर नेटवर्क टोपोलॉजी में bus topology में कंप्यूटर और नेटवर्क Device  एक दूसरे के साथ एक Single Cable से एक क्रम ( order ) में जुड़े हुए होते हैं, 

इसी प्रकार bus topology में भी एक सिंगल केबल के दोनों ओर computers और peripheral devices व्यवस्थित होती हैं , bus topology में data transfer एक दिशा में होता है।

Ring Topology

ring

Ring Topology में computers और peripheral devices एक दूसरे के साथ एक circular queue structure में जुडे़ होते हैं , ये computer network गोलाकार होता है इसीलिए इसे रिंग नेटवर्क भी कहा जाता है , Ring Topology में सभी कंप्यूटर में दो Lan Card लगे होते हैं

Star Topology

star

Star topology में एक Host Computer होता है, जो network में व्यवस्थित अन्य computers के केंद्र में रहकर सभी को नियंत्रित करता है। Star topology सबसे अधिक प्रयोग की जाने वाली computer network topology  है  जिसमे central computer / switch से अन्य कंप्यूटर Ethernet Cable से जुड़े होते हैं और इस connection में सभी computers की अपनी एक अलग Cable होती है।

ये भी पढ़े : Computer Hardware in Hindi A 2 Z easy explanation ? – कम्प्यूटर हार्डवेयर क्या होता हैं

Mesh Topology

mesh topology

Mesh Topology के अनुसार बने नेटवर्क में सभी Nodes एक दूसरे से connect रहते हैं , इस topology में यदि कोई computer / device काम करना बंद कर दे तो network सही प्रकार काम करता रहता है ,

Mesh टोपोलॉजी में बने network दो प्रकार के होते हैं , 

Fully Connected Mesh Topology 

Partially Connected Mesh Topology 

Tree Topology

Tree topology

Tree Topology में बना network एक पेड़ के आकार जैसा होता है। इसमें star topology और bus topology दोनों के structure को अपनाया जाता है क्योंकि इसमें Star topology जैसे ही एक main host computer होता है और Bus Topology जैसे सभी local computers एक ही cable से एक निश्चित क्रम में जुडे़ होते हैं।

ये भी पढ़े : computer memory in hindi with easy example 1 bit byte,ZB,Yotta byte etc

Hybrid Topology

hybrid topology

Hybrid Topology  में अनेक प्रकार की topology एक साथ प्रयोग की जाती हैं जैसे Bus, Star, Mesh, Ring और Tree Topology और इसीलिए इसका नाम Hybrid Topology है क्योंकि अपने नाम जैसे ही ये दो या दो से अधिक अलग- अलग प्रकार की टोपोलोजी मिलकर बनी एक mixture topology है ।

जैसे किसी एक company में बना network bus टोपोलॉजी पर आधारित है और दूसरी company में बना network ring टोपोलॉजी पर आधारित है और यदि इन दोनों companies के network को मिलाकर एक network बना दिया जाए तो वो hybrid computer network होगा

ये भी पढ़े : इनपुट डिवाइस किसे कहते हैं what is input device in hindi-types,full form in easy launguage

………………….

Computer network एक दूसरे के साथ communicate कैसे करते है 

(how computer network communicate)

(how data is transmitted )

सभी devices में ये communication, electromagnetic signals के transmission के रूप में होता है| यानि सभी devices के data, information, electromagnetic signals में बदल जाते है और उसके बाद उनका transmission होता है|

ये transmission भी 3 प्रकार के होते है :-

computer network-types of network-simplex half full duplex transmission

  1. Simplex Mode
  2. Half duplex Mode
  3. Full duplex Mode

 

  1. simplex transmission

    (This is Unidirectional = data can be sent only in one direction)

Simplex transmission में signals मात्र एक ही direction में transmit होते है| जो device, signals generate करती है वो transmitter कहलाती है और जिसे ये signals मिलते है, वो receiver होती है| इस प्रकार के transmission में data एक ही direction में भेजा जाता है ।इसमें receiver,sender को कोई भी message नही भेज सकता है|

example of Simplex transmission

cpu to – monitor , sound box , loudspeaker , television transmission,

remote to – television etc

  1. half-duplex transmission

    (bidirectional-but not at the same time )

इस प्रकार के transmission में दोनों ही device, transmitter और receiver दोनों का ही काम करती है,किन्तु एक समय में एक device एक ही operation करती है – या तो data, info की sending (transmission) या receiving

example of half-duplex transmission

वॉकी-टॉकी है जिसमें एक बार में एक message भेजा जाता है लेकिन संदेश दोनों direction में होता हैं।

  1. full duplex transmission

    ( bidirectional at the same time )

इस प्रकार के transmission में दोनों ही device, transmitter और receiver होते है और एक ही समय पर दोनों device , दोनों direction में data भेज सकते है|      

example of full duplex transmission

Telephone या mobile phone के बीच होने वाला communication

अभी हमने जाना, computer network के बीच होने वाले communication के लिए कितने प्रकार के transmission होते है|

निष्कर्ष

साथियों इस पोस्ट ” computer network in hindi-types of network topology LAN MAN WAN में हमने कंप्यूटर नेटवर्क को सरल भाषा में समझाने का प्रयास किया है जिसमे आपने different types of Computer Network को समझा , हमें पूरी आशा है कि Computer Network in Hindi आपको अच्छे से समझ आ गया होगा लेकिन आप इस विषय Computer Network में कुछ और समझना चाहते हैं तो हमें निसंकोच comment करे , हम उस विषय को समझाने का प्रयास करेंगे ,

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

5 COMMENTS

    thanks a lot, your appreciation would encourage me to continue my blogging journey…

    ??????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!