Thursday, August 18
Shadow

स्तुति Stuti

Shri Kameshwari Stuti- युधिष्ठिर कृत श्री कामेश्वरी स्तुति

Shri Kameshwari Stuti- युधिष्ठिर कृत श्री कामेश्वरी स्तुति

स्तुति Stuti, धर्म Religion
Shri Kameshwari Stuti- युधिष्ठिर कृत श्री कामेश्वरी स्तुति श्री कामेश्वरी स्तुति -  Shri Kameshwari Stuti युधिष्ठिर उवाच नमस्ते परमेशानि ब्रह्मरुपे सनातनि । सुरासुरजगद्वन्द्दे कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ १ ॥ न ते प्रभावं जानन्ति ब्रह्माद्यास्त्रिदशेश्वराः । प्रसीद जगतामाद्ये कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ २ ॥ अनादिपरमा विद्या देहिनां देहधारिणी । त्वमेवासि जगद्वन्द्ये कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ ३ ॥ त्वं बीजं सर्वभूतानां त्वं बुद्धिश्चेतना धृतिः । त्वं प्रबोधश्च निद्रा च कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ ४ ॥ त्वामाराध्य महेशोsपि कृतकृत्यं हि मन्यते । आत्मानं परमात्माsपि कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ ५ ॥ दुर्वृत्तवृत्तसंहर्त्रि पापपुण्यफलप्रदे । लोकानां तापसंहर्त्रि कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ ६ ॥ त्वमेका सर्वलोकानां सृष्टिस्थित्यन्तकारिणी । करालवदने कालि कामेश्वरि नमोsस्तु ते ॥ ७ ॥ प्रपन्नार्तिहरे मातः सुप्रस...
Shri Brahma Stuti Panchakam in hindi – ब्रह्म स्तुति पञ्चकम् का पाठ

Shri Brahma Stuti Panchakam in hindi – ब्रह्म स्तुति पञ्चकम् का पाठ

स्तुति Stuti, धर्म Religion
Shri Brahma Stuti Panchakam in hindi - ब्रह्म स्तुति पञ्चकम् का पाठ   ब्रह्म स्तुति पञ्चकम् का पाठ Shri Brahma Stuti Panchakam in hindi नमो नरकविद्वेषि नाभीनलिन जन्मने । ब्रह्मणे बृहदाकार भुवनाकारशिल्पिने ॥१॥ चतुराननमंभोज निषण्णं भारतीसखं। अक्षमाला वराभीति कमण्डलुधरं भजे ॥२॥ नमो विश्वसृजे तुभ्यं सत्याय परमात्मने। देवाय देवपतये यज्ञानां पतये नमः ॥३॥ नमस्ते लोकनाथाय नमस्ते सृष्टिकारिणे। नमस्ते वेदरूपाय नमस्ते ब्रह्मणे नमः ॥४॥ श्रीमद्वक्त्रारविन्द श्रुतिनिगममधुस्यन्दसन्दोहनन्दत्। विद्वत्भृंगाय गंगाहिमगिरिविलसत्पक्षहंसध्वजाय। भाषायोषित्प्रियाय प्रणतिकृतशिवप्राणि नाथप्रणामं। कुर्मो धर्मैकधाम्ने वयमखिलजगत्कर्मणेब्रह्मणे ते ॥५॥   ब्रह्म स्तुति पञ्चकम् से होने वाले लाभ : Shri Brahma Stuti Panchakam in hindi - ब्रह्म स्तुति पञ्चकम् का पाठ प्रतिदिन करने से सकरात्मक ऊर्जा प्राप्त होती...
श्री बगलामुखी स्तुति Mata Baglamukhi Stuti in hindi शत्रुओं को दूर करने वाली

श्री बगलामुखी स्तुति Mata Baglamukhi Stuti in hindi शत्रुओं को दूर करने वाली

स्तुति Stuti, धर्म Religion, पूजा पाठ Pooja Path
श्री बगलामुखी स्तुति Mata Baglamukhi Stuti in hindi शत्रुओं को दूर करने वाली Mata Baglamukhi Stuti in hindi : यदि आप सही होते हुए भी शत्रुओं से पीड़ित है तो कीजिये श्री बगलामुखी स्तुति क्योंकि माता बगलामुखी शत्रुओं को दूर करने वाली माता है और इनकी स्तुति से आपके सभी बिगड़े काम बन सकते हैं । तंत्र विद्या की देवी के रूप में प्रसिद्द माता बगलामुखी की पूजा , मंत्र जप व स्तुति के पाठ से माता शीघ्र प्रसन्न हो जाती है और भक्तो के कार्य में आ रही विघ्न बाधाओं को दूर करती हैं श्री बगलामुखी स्तुति Mata Baglamukhi Stuti in hindi  नमो महाविधा बरदा, बगलामुखी दयाल। स्तम्भन क्षण में करे, सुमरित अरिकुल काल।। नमो नमो पीताम्बरा भवानी, बगलामुखी नमो कल्यानी। भक्त वत्सला शत्रु नशानी, नमो महाविधा वरदानी ।1 । अमृत सागर बीच तुम्हारा, रत्न जड़ित मणि मंडित प्यारा। स्वर्ण सिंहासन पर आसीना, पीताम्बर अति दिव्य नवीना।...
श्री गणेश स्तुति Sri Ganesh Stuti in Hindi के पाठ से मिलता है धन , विद्या, बुद्धि, विवेक, यश, प्रसिद्धि, सिद्धि

श्री गणेश स्तुति Sri Ganesh Stuti in Hindi के पाठ से मिलता है धन , विद्या, बुद्धि, विवेक, यश, प्रसिद्धि, सिद्धि

स्तुति Stuti, धर्म Religion, पूजा पाठ Pooja Path
श्री गणेश स्तुति Sri Ganesh Stuti in Hindi के पाठ से मिलता है धन , विद्या, बुद्धि, विवेक, यश, प्रसिद्धि, सिद्धि Sri Ganesh Stuti in Hindi : पौराणिक ग्रंथों के अनुसार श्री गणेश स्तुति और श्री गणेश श्लोक किसी भी पूजा में सर्वप्रथम करने चाहिए क्योंकि गणेश जी सभी देवी देवताओं में प्रथम पूजनीय हैं , श्री गणेश स्तुति और श्री गणेश श्लोक के पाठ से जीवन में धन , विद्या, बुद्धि, विवेक, यश, प्रसिद्धि, सिद्धि की प्राप्ति होती है और साथ ही हमार्व जीवन के विघ्न,बाधा,आलस्य, रोग आदि दूर होते हैं । श्री गणेश श्लोक  Sri Ganesh Shlok in hindi image courtesy : flickr ॐ गजाननं भूंतागणाधि सेवितम्, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम्। उमासुतम् शोक विनाश कारकम्, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम्॥ श्री गणेश स्तुति Sri Ganesh Stuti in Hindi  गाइए गणपति जगवंदन। शंकर सुवन भवानी के नंदन।। गाइए गणपति जगवंदन... सिद्धी सदन गजवदन विना...
महालक्ष्मी स्तु‍ति Mahalaxmi Stuti in Hindi इसके पाठ से इंद्र की दरिद्रता दूर हुई थी

महालक्ष्मी स्तु‍ति Mahalaxmi Stuti in Hindi इसके पाठ से इंद्र की दरिद्रता दूर हुई थी

धर्म Religion, पूजा पाठ Pooja Path, स्तुति Stuti
महालक्ष्मी स्तु‍ति Mahalaxmi Stuti in Hindi इसके पाठ से इंद्र की दरिद्रता दूर हुई थी Mahalaxmi Stuti in Hindi : महालक्ष्मी स्तु‍ति के लाभ अनेक है जिनमे से सबसे प्रमुख लाभ ये है कि इस स्तुति को करने वाला कभी निर्धन नही रहता है , जब घमंड में चूर देवराज इंद्र को दुर्वासा ऋषि ने दरिद्र होने का अभिशाप दे दिया था तब इसी स्तुति के पाठ से इंद्र की दरिद्रता दूर हुई थी महालक्ष्मी स्तु‍ति Mahalaxmi Stuti in Hindi   आदि लक्ष्मि नमस्तेऽस्तु परब्रह्म स्वरूपिणि  । यशो देहि धनं देहि सर्व कामांश्च देहि मे   ।।1 ।। सन्तान लक्ष्मि नमस्तेऽस्तु पुत्र-पौत्र प्रदायिनि । पुत्रां देहि धनं देहि सर्व कामांश्च देहि मे ।।2 ।। विद्या लक्ष्मि नमस्तेऽस्तु ब्रह्म विद्या स्वरूपिणि । विद्यां देहि कलां देहि सर्व कामांश्च देहि मे ।।3 ।। धन लक्ष्मि नमस्तेऽस्तु सर्व दारिद्र्य नाशिनि । धनं देहि श्रियं देहि सर्व कामांश्च द...
मंगला गौरी स्तुति- Mangla Gauri Stuti in hindi मांगलिक दोष को दूर करने का उपाय

मंगला गौरी स्तुति- Mangla Gauri Stuti in hindi मांगलिक दोष को दूर करने का उपाय

धर्म Religion, पूजा पाठ Pooja Path, स्तुति Stuti
मंगला गौरी स्तुति- Mangla Gauri Stuti in hindi मांगलिक दोष को दूर करने का उपाय  Mangla Gauri Stuti in hindi  : मंगला गौरी स्तुति का पाठ करने से यदि कुंडली में मांगलिक दोष है तो वो दूर होता है और इसके साथ ही विवाह नही हो पा रहा हो तो विवाह की समस्त बाधायें दूर हो जाती है, यदि वैवाहिक जीवन में कलेश हो तो गृह कलेश से भी मुक्ति मिलती है मंगला गौरी स्तुति Mangla Gauri Stuti in hindi  जय जय गिरिराज किसोरी। जय महेस मुख चंद चकोरी॥ जय गजबदन षडानन माता। जगत जननि दामिनी दुति गाता॥ देवी पूजि पद कमल तुम्हारे। सुर नर मुनि सब होहिं सुखारे॥ मोर मनोरथ जानहु नीकें। बसहु सदा उर पुर सबही के॥ कीन्हेऊं प्रगट न कारन तेहिं। अस कहि चरन गहे बैदेहीं॥ बिनय प्रेम बस भई भवानी। खसी माल मुरति मुसुकानि॥ सादर सियं प्रसादु सर धरेऊ। बोली गौरी हरषु हियं भरेऊ॥ सुनु सिय सत्य असीस हमारी। पूजिहि मन कामना तुम्हारी॥ नारद बचन सदा ...
माँ त्रिपुर भैरवी स्तुति Maa Tripura Bhairavi Stuti

माँ त्रिपुर भैरवी स्तुति Maa Tripura Bhairavi Stuti

धर्म Religion, पूजा पाठ Pooja Path, स्तुति Stuti
माँ त्रिपुर भैरवी स्तुति-Maa Tripura Bhairavi Stuti माँ त्रिपुर भैरवी स्तुति/Maa Tripura Bhairavi Stuti सह्स्र सूर्य-सी दीप्तिमान, लाल वस्त्र पहने रक्त रंजित ओष्ठ लाल, ग्रीवा में डाले मुण्डमाल चतुर्भुजा माँ भैरवी,दो हाथों में पुस्तक-माला दो हाथों से देती वरदान और विश्वास कमल सरीखे तीन नयन हैं माँ के सिर पर रत्न मुकुट और अर्ध चंद्र शत्रु संहारिणी, शव सिंहासिनी माँ भैरवी | शत्रुओं से घिरे हम, न दीखता कोई रास्ता है पाएँ कैसे हम छुटकारा, माँ आप ही कर दो ऐसी युक्ति जिससे हमें मिल जाये मुक्ति, कोई नहीं हमारा है माँ आप ही का सहारा है, दुख हर लो मेरा त्राता, दाता करो कृपा  माँ भैरवी || ये भी पढे : शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) जीवन मे सभी सुखों को देने वाला मंत्र है ये भी पढ़े : श्री स्तुति मंत्र ( Sri Stuti : Sri Stuthi ) के पाठ से जीवन से सभी प्रकार के अभाव दूर होते है *****************...

श्री स्तुति मंत्र ( Sri Stuti : Sri Stuthi ) के पाठ से जीवन से सभी प्रकार के अभाव दूर होते है

धर्म Religion, पूजा पाठ Pooja Path, स्तुति Stuti
श्री स्तुति मंत्र ( Sri Stuti : Sri Stuthi ) के पाठ से जीवन से सभी प्रकार के अभाव दूर होते है श्री स्तुति मंत्र ( Sri Stuti : Sri Stuthi ) : जब माँ लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करनी हो तो श्री स्तुति मंत्र का पाठ करें , श्री स्तुति मंत्र ( Sri Stuti : Sri Stuthi ) के पाठ से जीवन से सभी प्रकार के अभाव दूर होते है, ये पाठ आप माँ लक्ष्मी के समक्ष बैठकर किसी भी शुक्रवार से प्रारंभ करे  तो आइये करते है श्री स्तुति( Sri Stuti ) का पाठ  श्री स्तुति मंत्र :Sri Stuti:Sri Stuthi  मानातीतप्रथितविभवां मङ्गलं मङ्गलानां वक्षःपीठीं मधुविजयिनॊ भूषयन्तीं स्वकान्त्या । प्रत्यक्षानुश्रविकमहिमप्रार्थनीनां प्रजानां श्रॆयॊमूर्तिं श्रियमशरणः त्वां शरण्यां प्रपद्यॆ ॥ १ ॥ आविर्भावः कलशजलधावध्वरॆ वापि यस्याः स्थानं यस्याः सरसिजवनं विष्णुवक्षस्थलं वा । भूमा यस्या भुवनमखिलं दॆवि दिव्यं पदं वा स्तॊकप्रज्ञै...
शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) जीवन मे सभी सुखों को देने वाला मंत्र है

शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) जीवन मे सभी सुखों को देने वाला मंत्र है

पूजा पाठ Pooja Path, धर्म Religion, स्तुति Stuti
शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) जीवन मे सभी सुखों को देने वाला मंत्र है जब आपका मन बहुत विचलित और अशांत हो तो शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) का पाठ करें जिसकी रचना भगवान शंकराचार्य ने स्वंम की थी, शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) 'वेदसार स्तव' के नाम से भी प्रसिद्ध है और ये हमे जीवन मे सभी सुखों को देने वाला स्तुति मंत्र है   आप इसकी शुरुआत किसी भी सोमवार से करें और शिव पूजन या रुद्राभिषेक के साथ करे तो ये और भी शीघ्र फलदायक होगा तो आइये करते हैं शिव स्तुति मंत्र (Shiv Stuti Mantra) शिव स्तुति मंत्र Shiv Stuti Mantra पशूनां पतिं पापनाशं परेशं गजेन्द्रस्य कृत्तिं वसानं वरेण्यम। जटाजूटमध्ये स्फुरद्गाङ्गवारिं महादेवमेकं स्मरामि स्मरारिम।1। महेशं सुरेशं सुरारातिनाशं विभुं विश्वनाथं विभूत्यङ्गभूषम्। विरूपाक्षमिन्द्वर्कवह्नित्रिनेत्रं सदानन्दमीडे प्रभुं पञ्चव...
error: Content is protected !!