Shadow

Tag: north indian famous temples

ओंकारेश्वर मन्दिर omkareshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide

ओंकारेश्वर मन्दिर omkareshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide

12 jyotirlinga, उत्तर भारत के तीर्थ, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage
ओंकारेश्वर मन्दिर omkareshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide ओंकारेश्वर मन्दिर (omkareshwar jyotirlinga) मध्य प्रदेश के इंदौर नगर के निकट (लगभग 77 किमी दूर ) और नर्मदा नदी के किनारे विराजित है | 12 ज्योतिलिंगो में प्रभु ओंकारेश्वर का स्थान चौथा आता है | वायु पुराण,स्कन्द पुराण ,शिवपुराण में भी ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग की महिमा का उल्लेख किया गया है | ऐसा माना जाता है कि प्रभु शिव प्रतिदिन तीनो लोक का भ्रमण करते और भ्रमण के बाद यहाँ विश्राम करते है , प्रभु ओंकारेश्वर के विश्राम कि यहाँ विशेष व्यवस्था होती है साथ ही प्रभु के भक्तों को विश्राम करते हुए ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन का लाभ मिलता है | हिन्दू धर्म में अति पवित्र माने जाने वाले अक्षर ॐ के सामान है प्रभु ओंकारेश्वर की आकृति कदाचित् इसीलिए ओंकारेश्वर नाम पड़ा | यदि आप ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग तीर्थ का पूर्ण लाभ ले...
बद्रीनाथ धाम-प्रभु विष्णु  का दूसरा निवास स्थान How to reach badrinath dham 1 of the char dham yatra-Complete & Easy Guide

बद्रीनाथ धाम-प्रभु विष्णु  का दूसरा निवास स्थान How to reach badrinath dham 1 of the char dham yatra-Complete & Easy Guide

उत्तर भारत के तीर्थ, चार धाम Char dhaam, छोटा चार धाम Chota char dham, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage
बद्रीनाथ धाम-प्रभु विष्णु का दूसरा निवास स्थान How to reach badrinath dham 1 of the char dham yatra-Complete & Easy Guide badrinath dham-char dham : बद्रीनाथ धाम उत्तराखण्ड राज्य के चमोली जनपद में अलकनन्दा नदी के तट पर स्थित है जो बैकुंठ के बाद प्रभु विष्णु  का दूसरा निवास स्थान है | बद्रीनाथ धाम (badrinath dham )  में भगवान विष्णु की शालिग्राम से बनी हुई लगभग 3.3 मीटर स्थापित है और कहा जाता है की इस मूर्ती को आदि शंकराचार्य ने नारद कुंड से निकालकर यहाँ स्थापित किया था और ये भी कहा जाता है की भगवान् विष्णु की ये मूर्ती स्वंम प्रकट हुई थी और ये किसी मानव के द्वारा निर्मित मूर्ती नही है | बद्रीनाथ तीर्थ के महत्व और प्रसिद्धि के कारण ही यहाँ का पूरा क्षेत्र ही बद्रीनाथ धाम (char dham )  कहलाता है , साथ ही ये भी कहा जाता है कि यहाँ कभी बद्री (बेर) के वृक्षों के के घन...
ghushmeshwar jyotirlinga-घृष्णेश्वर मन्दिर महराष्ट्र-संतान देने वाले ज्योतिर्लिंग

ghushmeshwar jyotirlinga-घृष्णेश्वर मन्दिर महराष्ट्र-संतान देने वाले ज्योतिर्लिंग

12 jyotirlinga, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage, पश्चिम भारत के तीर्थ
ghushmeshwar jyotirlinga - घृष्णेश्वर मन्दिर महराष्ट्र-संतान देने वाले ज्योतिर्लिंग (ghushmeshwar jyotirlinga kaha hai) ghushmeshwar jyotirlinga : महाराष्ट्र के औरंगाबाद से लगभग 28- कि.मी. की दूरी  पर ,दौलताबाद  निकट वेरुल नामक गांव में बारह  ज्योतिर्लिंगों  में से अंतिम ज्योतिर्लिंग घृष्‍णेश्‍वर महादेव विराजित है | अनेक लोग इन्हें घुश्मेश्वर, घुसृणेश्वर या घृष्णेश्वर के नाम से भी जानते हैं। शिवपुराण में भी घुश्मेश्वर महादेव का वर्णन मिलता है,ऐसा देखा गया है की जिन दम्पतियों को अनेक स्थानों पर उपचार कराने के बाद और अनेक वर्षों के बाद भी जब संतान नही होती है , तो प्रभु घुश्मेश्वर ghushmeshwar jyotirlinga के पूजन से और प्रभु की कृपा से उनको भी संतान प्राप्त हो जाती है | image source : Pinterest  प्रभु घुश्मेश्वर के दर्शन करने उनको भक्त पुरे वर्ष ही भारी संख्या में यह...
केदारनाथ ज्योतिर्लिंग-शिव कैसे बने बैल की पीठ Kedarnath temple-Kedarnath jyotirlinga A 2 Z complete & easy tour guide

केदारनाथ ज्योतिर्लिंग-शिव कैसे बने बैल की पीठ Kedarnath temple-Kedarnath jyotirlinga A 2 Z complete & easy tour guide

12 jyotirlinga, उत्तर भारत के तीर्थ, छोटा चार धाम Chota char dham, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage
केदारनाथ ज्योतिर्लिंग Kedarnath temple-Kedarnath jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide Kedarnath temple-Kedarnath jyotirlinga : उत्तराखंड राज्य के रूद्रप्रयाग जिले में हिमालय पर्वत श्रृखला केदार नामक पर्वत पर  समुद्रतल से लगभग 3584 मीटर की ऊंचाई पर  विराजित है प्रभु केदारनाथ ज्योतिर्लिंग ( kedarnath jyotirling) | हिन्दू धर्म के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक और चारों धाम में से एक धाम है केदारनाथ मन्दिर  (kedarnath temple) और साथ ही साथ पंच केदार में से भी एक है केदारनाथ मन्दिर  (kedarnath temple)  | केदारनाथ ज्योतिर्लिंग के एक ओर लगभग 22 हजार फुट ऊँचाई पर केदार पर्वत , दूसरी ओर 21 हजार 600 फुट ऊँचाई पर खर्चकुंड और तीसरी ओर लगभग 22 हजार 700 फुट ऊँचाई पर भरतकुंड स्थित है । इसके साथ ही यहाँ पांच पवित्र नदियाँ स्थित है जिनका नाम है क्षीरगंगा, मधुगंगा, सरस्वती,स्वर्णगौरी,  और अल...
महाकालेश्वर मंदिर- mahakaleshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide

महाकालेश्वर मंदिर- mahakaleshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide

12 jyotirlinga, उत्तर भारत के तीर्थ, तीर्थ-Tirth/Pilgrimage
महाकालेश्वर मंदिर- mahakaleshwar jyotirlinga A 2 Z Complete & Easy Guide मध्यप्रदेश राज्य के उज्जैन नगर के मालवा क्षेत्र में क्षिप्रा नदी के पूर्वी किनारे पर विराजित है प्रभु महाकालेश्वर महादेव  | महाकालेश्वर मंदिर  mahakaleshwar jyotirlinga भारत के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। प्राचीन काल में इस स्थान को ही उज्जयिनी कहा जाता था | उज्जयिनिं नगर अवन्ती राज्य की राजधानी था । ऐसा माना जाता है की ये स्थान संसार का आरम्भ स्थलहै | जिस प्रकार वाराणसी, अयोध्या, मथुरा, हरिद्वार, द्वारका और कांचीपुरम को अत्यंत पवित्र स्थल माना जाता है, उसी प्रकार उज्जैन नगरी भी एक ऐसा पवित्र स्थल है जिसे मोक्षदायिनी नगरी माना जाता है | उज्जैन में पवित्र 12 वर्षों में एक बार कुम्भ मेला लगता है। महाकालेश्वर महादेव  mahakaleshwar jyotirlingaकी पूजा में भस्‍मआरती का व‌िशेष महत्व है और ये ...