Shadow

बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर How to remove Vaastu dosh without demolition-9 important tips 

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर How to remove Vaastu dosh without demolition-9 important tips

How to remove Vaastu dosh without demolition : बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर यह अपने आप में एक महा उपाय है। जिनके घर के निर्माण में वास्तु दोष आ चुका है उन सभी व्यक्तियों को यहाँ बताया गये नियमों को और बताए जा रहे उपायों को अवश्य अपनाना चाहिए

क्योंकि घर में वास्तु दोष होने से हमारी कुंडली के ग्रह नक्षत्र दूषित हो जाते हैं और उसका हमें अपने जीवन में दुष्प्रभाव देखना पड़ता है इसलिए हम सभी को वास्तु दोष कैसे करें दूर यह अवश्य ही जानना चाहिए।

बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर How to remove Vaastu dosh without demolition

Photo by Zac Gudakov on Unsplash

तो आइए आज हम जानते हैं बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर

बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर

How to remove Vaastu dosh without demolition

1. जिन लोगों के घर में साफ सफाई की कमी होती है और घर गंदे पड़े होते हैं और विशेष कर फर्श और शौचालय बहुत ही ज्यादा गंदा होता है वहां पर वास्तु दोष सदैव ही रहता है क्योंकि साफ सफाई न होने से और गंदगी रहने से राहु और शनि सक्रिय हो जाते हैं इसलिए हम सभी को अपने घर की नियमित ही साफ सफाई करनी चाहिए

2. घर का वातावरण सुगंधित रखना चाहिए क्योंकि जहां से भी दुर्गंध आती है वहां शुक्र का प्रभाव समाप्त हो जाता है इसलिए घर के टॉयलेट बाथरूम सभी सुगंधित हो तो बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष दूर होता है।

3. घर की उत्तर दिशा सदैव हल्की रखना चाहिए क्योंकि घर की उत्तर दिशा पर बुध का प्रभाव होता है और बुध के सकारात्मक प्रभाव से ही हमारी जिंदगी में अवसर मिलते हैं

4. हमको अपने घर में और अपने-अपने कमरों में घर की उत्तर पूर्व दिशा सदैव हल्की रखनी चाहिए क्योंकि यह दिशा बृहस्पति अर्थात गुरु की दिशा होती है और गुरु की दिशा हल्की और सुगंधित और साफ सुथरी रखने से घर के बृहस्पति जागृत रहते हैं और बृहस्पति का अच्छा फल मिलने से हमारे जीवन की अनेक समस्याओं का अंत होता है , जीवन में हर क्षेत्र में वृद्धि और विस्तार प्राप्त होता है।

5. यदि आपका घर दक्षिण मुखी है तो घर के सामने अपने घर से दोगुनी दूरी पर अथवा घर से अग्नि कोण यानि पूर्व दक्षिण की दिशा में एक नीम का पेड़ लगा देने और उसकी प्रतिदिन देखरेख करने से भी दक्षिण मुखी मकान का वास्तु दोष दूर होता है।

6. घर में दक्षिण दक्षिण दिशा की खिड़की और दरवाजों को कम से कम खोलना चाहिए और वहां पर मोटे पर्दे लगा के रखना चाहिए यदि आपके घर के पूर्व या उत्तर में खिड़की और दरवाजे हैं तो उनको आप खोल के रख सकते हैं ।

7. घर के दरवाजों के दोनों और शुभ लाभ और ओम का चिन्ह लगा हो और घर के दरवाजे के ऊपर वंदनवार लगा हो तो यह एक शुभ प्रभाव देने वाला होता है इसलिए हमें अपने घर के दरवाजे और खिड़कियों के ऊपर शुभ लाभ और ओम के चिन्ह और स्वास्तिक किचन ने आदि लगा के रखना चाहिए और घर के कमरों के अंदर हमें सुंदर चित्र और सकारात्मक संकेत देने वाले ही चित्र लगाकर रखना चाहिए जिसमें दौड़ते हुए घोड़े अथवा पुष्प अथवा बहता हुआ झरना आदि हो।

8. घर में पानी के नलों से पानी टपकना अशुभ माना जाता है और यह हमारे आर्थिक नुकसान को दिखाता है तो जब भी किसी भी नल से पानी टपकता हो तो उसे शीघ्र अतिशीघ्र ठीक करवा दें अन्यथा घर में चंद्र निर्बल और राहु बलवान होता है । इसी प्रकार घर की दीवारों और छत से यदि पानी टपकता हो तो उसे भी शीघ्र अति शीघ्र ठीक करवा दें।

9. घर के दक्षिण पश्चिम दिशा में सदैव भारी सामानों को रखना चाहिए जैसे कि आप अपने घर की अलमारी या बक्सों को वहां रख सकते हैं , उस दिशा का हल्का होना शुभ प्रभाव नहीं देता है जबकि उसे दिशा का भारी होना सदैव अच्छा फल देता है।

गोल ज्ञान किसे कहते हैं What is Gol Gyan zodiac signs and bhav in Gol Gyan

निष्कर्ष :

जब भी हम वास्तु के नियमों को मानते हैं और वास्तु के नियमों को और घर में विभिन्न दिशाओं को एक दूसरे के साथ तालमेल में रखते हैं तो हमारे घर का वास्तु दोष दूर होना लग जाता है और इस प्रकार से हम बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष दूर कर सकते हैं ।

साथियों हमें आशा है कि आपको ये पोस्ट  “बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर How to remove Vaastu dosh without demolition-9 important tips ” पसंद आई होगी , यदि हाँ तो इसे अपने जानने वालों में share करें। , कुंडली विश्लेषण के लिए हमारे WhatsApp number 8533087800 पर संपर्क कर सकते हैं

अब यदि कोई ग्रह ख़राब फल दे रहा हो , कुपित हो या निर्बल हो तो उस ग्रह के मंत्रों का जाप , रत्न आदि धारण करने चाहिए ,

अपना ज्योतिषीय ज्ञान वर्धन के लिए हमारे facebook ज्योतिष ग्रुप के साथ जुड़े , नीचे दिए link पर click करें

श्री गणेश ज्योतिष समाधान 

भारतीय ज्योतिष के 10 महत्वपूर्ण पक्ष 10 Important Aspects of Indian Astrology

********************************************************

ये भी पढ़े :ज्योतिष के अनुसार शिक्षा -9 ग्रहों के अनुसार शिक्षा (education in astrology – education as per planets)

**************

ये भी पढे :चंद्रमा की अन्य 8 ग्रहों से युति moon with different planets effects (chandrama ki anya grahon se yuti)विभि

आप पढ़ रहे थे “बिना तोड़फोड़ वास्तु दोष कैसे करें दूर How to remove Vaastu dosh without demolition-9 important tips ”

Scrub India 

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...
error: Content is protected !!