5 best tourist places in south india(south india temple tour)-सर्दियों में घूमने के स्थान  

5 best tourist places in south india
अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

best tourist places in south india 

(South india temple tour)

सर्दियों में घूमने के स्थान 

सर्दियों में घूमना चाहते है और आप google पर best tourist places in south india को search कर रहे है और google आपको बहुत सारे tourist destination दिखा रहा है और आप ये decide नही कर पा रहे है कि best tourist places in south india कौन से है तो चिंता बिलकुल न करें हम आपको बता दे कि आपके लिए south india temple tour  से अच्छा विकल्प कोई नही हो सकता है क्योंकि आप घूम भी लेंगे और साथ साथ तीर्थ भी हो जायेंगे हम आपको बताने जा रहे है best tourist places in south india कौन कौन से है ।

साथियों south india temple tour में आपका काफी समय लग सकता है क्योंकि south india में अनेकों temples है किन्तु हम आपको यहाँ कुछ selected temples बता रहे है जिससे आपको अपना south india temple tour हमेशा याद रहेगा  :-

5 best tourist places in south india – south india temple tour

पद्मनाभस्वामी मंदिर तिरुवनंतपुरम केरल 

(south india temple tour – 1st destination)

padmanabhaswamy temple

भारत के दक्षिणी राज्य केरल के  तिरुअनन्तपुरम जनपद में शेषनाग पर शयन मुद्रा में विराजित भगवान् श्रीहरिविष्णु का पद्मनाभस्वामी मंदिर तिरुवनंतपुरम, संसार भर में प्रसिद्ध भगवान् श्री विष्णु के अति पवित्र और सुविख्यात मंदिरों में से एक है , साथ ही केरल का एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है और आप इसे best tourist places in south india में  पहले स्थान पर रख सकते हैं और यही से अपनी यात्रा का श्री गणेश कर सकते है ।

यहाँ भगवान् विष्णु शेषनाग की शरीर रुपी शैया पर विश्राम अवस्था में है | शेषनाग को ही अनंत के नाम से भी जाना जाता है इसीलिए ऐसा कहा जाता है कि तिरुअनंतपुरम का नाम ‘अनंत’  नामक शेषनाग के नाम पर ही रखा गया है ।

अनेक तमिल संतो ने हिन्दू धर्मग्रंथो में दिव्य देसम का वर्णन किया है , दिव्य देसम भगवान् विष्णु के 108 अति पवित्र मंदिर है और उन्ही 108 मंदिरों में से एक है पद्मनाभस्वामी मंदिर तिरुवनंतपुरम जोकि संसार के सबसे धनी हिन्दू मंदिरों में से एक है ।

पद्मनाभस्वामी मंदिर तिरुवनंतपुरम के बारे में पूरा पढ़े READ MORE

रामेश्वरम तमिलनाडु

(south india temple tour – 2nd destination)

rameshwaram
rameshwaram

12 ज्योतिर्लिंगों में से एक रामेश्वरम तमिलनाडु राज्य के रामनाथपुरम जनपद में स्थित है

इसके साथ जी रामेश्वरम हिन्दू धर्म में अति पवित्र माने जाने वाले चारों धाम में से एक धाम भी है । रामेश्वरम तमिलनाडु के चेन्नई नगर से लगभग 592 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हिन्दू धर्म का पवित्र तीर्थस्थल है।  रामेश्वरम् में स्थित इस रामनाथस्वामी ज्योर्तिलिंग को प्रभु राम ने लंका पर विजय प्राप्ति की कामना से उस समय बनाया था जब प्रभु श्रीराम लंका के राजा रावण से युद्ध करने की तैयारी कर रहे थे । भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए श्रीराम ने इस शिवलिंग का निर्माण किया था और उस पर जल चढ़ाया था ।आप इसे best tourist places in south india में  दूसरे  स्थान पर रख सकते हैं ।

हिन्दू धर्म में जैसे उत्तर में काशी का महत्व है,ठीक उसी प्रकार रामेश्वरम दक्षिण की काशी है । 

ये भी जाता है  कि यदि किसी व्यक्ति ने ब्रह्महत्या जैसे अपराध भी किया हो तो रामेश्वरम में भगवान शिव की विधिवत पूजा करने से उस दोष से मुक्ति मिल जाती है। 

यह वही स्थान है जहाँ  भगवान राम ने लंका पर चढ़ाई करने के लिए हनुमान जी और वानर सेना के साथ पत्थरों के सेतु का निर्माण करवाया था, जिसपर चढ़कर भगवान् राम अपनी सेना के साथ लंका गये और लंका पर विजय प्राप्त की ।

रामेश्वरम तीर्थ के बारे में पूरा पढ़े READ MORE

मीनाक्षी मंदिर तमिलनाडु 

(south india temple tour – 3rd destination)

Meenakshi-Temple-maihindu.com

भारत के तमिलनाडु राज्य में 2500 वर्ष से भी पुराना नगर मदुरै है जिसका निर्माण पांडियन राजा कुलशेखर ने 6वीं शताब्‍दी में कराया था। मदुरै नगर में स्थित है ,माता पार्वती ( मीनाक्षी ) और भगवान् शिव ( सुन्दरेश्वर ) का ऐतिहासिक व पौराणिक महत्व वाला मंदिर जिसे मीनाक्षी अम्मा मंदिर या मीनाक्षी -सुंदरेश्वर मंदिर भी कहा जाता है।आप इसे best tourist places in south india में  तीसरे स्थान पर रख सकते हैं ।

हिन्दू धर्मानुसार इस स्थान पर भगवान शिव ने सुंदरेश्वर का रूप धारण करके , माता पार्वती जिन्हें मीनाक्षी भी बोला जाता है, से विवाह किया था| मीनाक्षी मंदिर प्रतिदिन लगभग 20 हज़ार तीर्थयात्री आते हैं। मंदिर में सबसे अधिक तीर्थयात्री शुक्रवार के दिन आते है,इस दिन इनकी संख्‍या लगभग 30-35 हज़ार हो जाती है|

मीनाक्षी -सुंदरेश्वर मंदिर के बारे में पूरा पढ़े READ MORE

मल्लिकार्जुन आंद्रप्रदेश 

(south india temple tour – 4rth destination)

Mallikarjuna Swamy Temple

आंद्रप्रदेश के कृष्णा जिले में कृष्णा नदी के तट पर श्री शैल पर्वत srisailam पर विराजित है ,दक्षिण के कैलाश माने जाने वाले प्रभु मल्लिकार्जुन | प्रभु मल्लिकार्जुन श्री शैल पर्वत srisailam परकब से विराजित है ये किसी को ज्ञात नही है लेकिन इनकी प्राचीनता का पता इस बात से ही चल जाता है कि हिन्दू धार्मिक ग्रन्थ स्कंद पुराण में  श्री शैल काण्ड नाम का अध्याय है ,जिसमे  प्रभु मल्लिकार्जुन मंदिर का वर्णन है। हिन्दू धर्म में अति पूजनिये 12 ज्योतिर्लिंगों में से प्रभु मल्लिकार्जुन द्वितीय ज्योतिर्लिंग है।आप इसे best tourist places in south india में  चौथे स्थान पर रख सकते हैं ।

शिव पुराण में भगवान मल्लिकार्जुन का जो वर्णन है उसके अनुसार मल्लिका माँ पार्वती है और भगवान  शिव ही अर्जुन है और जो भी इनका पूजन करता है उसे अश्वमेघ यज्ञ का फल मिलता है| ये स्थान हैदराबाद से लगभग 232 कि.मि. दूर दक्षिणमें स्थित है।

मल्लिकार्जुन तीर्थ के बारे में पूरा पढ़े READ MORE

तिरुपति बालाजी आंद्रप्रदेश 

(south india temple tour – 5th destination)

Tirumala Tirupati balaji      

आंद्रप्रदेश के चित्तूर जनपद में, समुद्र तल से 3200 फीट की ऊँचाई पर , तिरुमाला की पहाड़ियों पर विराजित है – भगवान् वेंकटेश्वर जिन्हें तिरुपति बाला जी के नाम से भी सारा संसार जानता है , जिनके दर्शन करने और आशीर्वाद पाने के लिए लाखों भक्त प्रतिवर्ष आते है| तिरुपति बालाजी मंदिर संसार का सबसे धनी मंदिर है और हिन्दू धर्म के विश्व प्रसिद्ध तीर्थस्थलों में से एक, दक्षिण भारतीय वास्तुकला और शिल्प कला का अदभूत उदाहरण हैं।आप इसे best tourist places in south india में  पांचवे स्थान पर रख सकते हैं ।

पौराणिक कथा के अनुसार, भगवान विष्णु ने कलियुग की विपत्तियों से मानव जाति को बचाने के लिए श्री वेंकटेश्वर का रूप धारण किया। वैसे तो बालाजी के दर्शन के लिए प्रतिदिन ही बड़ी संख्या में तीर्थयात्री तिरुपति आते है पर वैकुंठ एकादशी के अवसर पर तिरुपति बालाजी के भक्त प्रभु के दर्शन के लिए विशेष आते हैं और ऐसा विश्वास करते है कि यहाँ आने के बाद उनके सभी पाप धुल जाते हैं और जन्म  मृत्यु के बंधन से मुक्ति मिलती है| दर्शन करने वाले भक्‍तों को एक पर्ची कटानी पड़ती है, इस  पर्ची के माध्‍यम से भक्त भगवान वैंकटेश्‍वर के दर्शन कर सकते है।

तिरुपति बालाजी तीर्थ के बारे में पूरा पढ़े READ MORE

 

तो साथियों ये थे 5 best tourist places in south india और इन स्थानों पर घूमने से आपका  winter vacation भी यादगार रहेगा और साथ ही इस south india temple tour से अपने धर्म और भगवान् से जुड़ाव अनुभव होगा ।

 

 

 

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!