श्री शनिदेव के सिद्ध मन्त्र और आरती( 9 shanidev mantra & aarti)

श्री शनिदेव के सिद्ध मन्त्र और आरती( 9 shanidev mantra & aarti)Shri Shani Dev Chalisa - श्री शनि चालीसा
अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

श्री शनिदेव के सिद्ध मन्त्र और आरती( 9 shanidev mantra & aarti)

श्री शनिदेव के सिद्ध मन्त्र और आरती( 9 shanidev mantra & aarti): शनि की शुभ दृष्टि  रंक को राजा बना सकती है। वहीं शनि महाराज की बुरी दृष्टि  राजा को रंक बना देती है। इसलिए शनि की शांति के लिए शनि की पूजा  करना अति आवश्यक  है। शनि की ढैय्या और साढ़ेसाती का प्रभाव कम करने के लिए शनि के विभिन्न मंत्रो का जाप करना  फलदायक माना गया है। इन मंत्रों से केवल ढैय्या और साढ़ेसाती का प्रभाव ही नहीं बल्कि व्यक्ति के कष्टों का निवारण हो जाता है।

आप प्रति शनिवार की शाम को पीपल के पेड़ के नीचे अथवा शमी के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इससे शनि दशा का प्रभाव कम होता है।

शनिदेव के मन्त्रों का जाप  23000 हजार बार करना चाहिए 

आइये जानते है शनिदेव के कुछ प्रभावशाली मंत्र 

शनिदेव के सिद्ध मन्त्र

–>1. श्री नीलान्जन समाभासं, रवि पुत्रं यमाग्रजम। छाया मार्तण्ड सम्भूतं, तं नमामि शनैश्चरम।।

–>2.  ऊं कृष्णांगाय विद्महे रविपुत्राय धीमहि तन्न: सौरि: प्रचोदयात।

–>3.  ॐ शन्नो देवी रभिष्टय आपो भवन्तु पीपतये शनयो रविस्र वन्तुनः।

–>4.   कोणोSन्तको रौद्रायमोSथ बभ्रु: कृष्ण: शनि: पिंगलमन्दसौरी:।
        नित्यं स्मृतो यो हरते च पीडां तस्मै नम: श्रीरविनन्दनाय।।

–>5.  ॐ शन्नो देवी रभिष्टय आपो भवन्तु पीपतये शनयो रविस्र वन्तुनः।

–>6.  ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:

–>७.  ॐ ऐं ह्लीं श्रीशनैश्चराय नम:।

–>8.  कोणस्थ पिंगलो बभ्रु: कृष्णो रौद्रोन्तको यम:।

–>9.  सौरि: शनैश्चरो मंद: पिप्पलादेन संस्तुत:।।

श्री शनिदेव की आरती

sri shanidev ki aarti 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।
सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥
जय जय श्री शनि देव….

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी।
नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥
जय जय श्री शनि देव….

क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी।
मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥
जय जय श्री शनि देव….

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी।
लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥
जय जय श्री शनि देव….

देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी।
विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥
जय जय श्री शनि देव भक्तन हितकारी।।

(शनिदेव की आरती संपन्न )

shanidev ki aarti samapan 

साथियों हमे पूरा विश्वास है की आपके द्वारा की गयी शनिदेव की पूजा अवश्य ही फलदायक होगी किन्तु  यदि आपको ऐसा अनुभव हो रहा है कि आपके द्वारा शनिदेव को की गयी पूजा फल नही दे पा रही है तो आप सूर्यदेव या हनुमान जी की पूजन करके भी देख सकते है जिनके link नीचे दिए हुए है 

Also  Read : सूर्यदेव 

Also Read :- सूर्यदेवको प्रसन्न करने के लिए आदित्यहृदय स्त्रोत  

Also Read :- सूर्यदेव मंदिर   

Also Read :- हनुमान चालीसा  

Also Read :- संकटमोचन हनुमानाष्टक हिन्दी में अर्थ सहित 

Also Read :- हनुमान जी का सिद्ध मंदिर अवश्य जाएँ 

Also Read :- शनिदेव के रहस्य shanidev’s mystery

कुंडली विश्लेषण के लिए हमारे whatsApp number 8533087800 पर संपर्क करे उसके बाद ही कॉल  करें 

अपना ज्योतिषीय ज्ञान वर्धन के लिए हमारे facebook ज्योतिष ग्रुप के साथ जुड़े , नीचे दिए link पर click करें

श्री गणेश ज्योतिष समाधान 

टेक्नोलॉजिकल ज्ञान  : CPU क्या है What is CPU in Hindi,CPU Core,CPU types,complete & in easy langauge in 1 article

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!