Wednesday, September 28
Shadow

रोगों से मुक्ति के ज्योतिषीय उपाय-16 supernatural healthy tips

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

रोगों से मुक्ति के ज्योतिषीय उपाय-supernatural healthy tips

हम सभी अपने जीवन में स्वस्थ रहना चाहते हैं , रोगों से मुक्ति चाहते हैं ,इसीलिए अपने स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए कोई healthy tips अपनाता है तो कोई ज्योतिषीय उपाय करता है , कुछ लोग healthy tips अपनाने के बाद भी स्वस्थ नही हो पाते है तो थक हार कर भगवान् की शरण में जाते हैं और कुछ ज्योतिषीय उपाय करते हैं

साथियों ज्योतिषीय उपाय कोई जादू टोना नही है बल्कि हमारे ऋषि मुनियों के गहन अध्यन से प्राप्त ऐसा ज्ञान है जिसकी सहायता से हम स्वस्थ रह सकते हैं , अपने स्वास्थ्य को अच्छा रख सकते हैं और इसलिए आप ये कह सकते हैं की ज्योतिषीय उपाय भी एक प्रकार की healthy tips ही है

रोगों से मुक्ति के ज्योतिषीय उपाय-supernatural healthy tips

साथियों रोगों से मुक्ति के लिए अनेक ज्योतिषीय उपाय हैं जैसे कुछ मन्त्रों के जाप पर विश्वास करते हैं वहीँ कुछ रत्नों के द्वारा स्वस्थ होना चाहते हैं किन्तु अपनी इस post में हम आपको आपके स्वास्थ्य को अच्छा करने के लिए सबसे सरल ज्योतिषीय उपाय बताने जा रहें है जिसे आप सावधानी से करें तो निश्चित ही आप स्वस्थ रहेंगे – प्रसन्न रहेंगे

ये भी पढ़े : know what not to do on Wednesday ?बुधवार के दिन क्या नही करना चाहिए ?

तो आइये जानते हैं supernatural healthy tips यानि रोगों से मुक्ति के लिए अनेक ज्योतिषीय उपाय 

  1. रोगों से मुक्ति के लिए किसी शुभ मुहर्त में तुलसी की माला धारण करने से भी रोगों से मुक्ति मिलती है । यदि प्रतिदिन प्रातः निहार मुंह ( बिना मुंह धोए, बिना कुछ खाए और बिना अपना मुख देखे ) और रात को सोने से पहले तुलसी पत्र ( पत्ते ) का सेवन किया जाए तो रोगी व्यक्ति स्वस्थ होने लगता है 
  2. यदि घर में किसी रोगी व्यक्ति का रोग ठीक न हो रहा हो तो उसके तकिये यानि सिरहाने के नीचे पीपल की जड़ और सहदेई रख दें। इसके बाद वह शीध्र ठीक होने लगेगा।
  3. किसी व्यक्ति को रोग से भंयकर पीड़ा हो रही हो तो उसके रोगों को दूर करने के लिए जौ के आटे में सरसों का तेल और काले तिल मिलाकर एक रोटी बना कर , इसे रोगी के शरीर के उपर से 7 बार उल्टा ( anticlockwise ) उतार कर किसी काले भैंसे को शनिवार खिला दे, इस उपाय से गंभीर रोगों से मुक्ति मिलती है और रोगी व्यक्ति स्वस्थ होने लगता है रोगों से मुक्ति के लिए रोगी के सिरहाने तकिया के नीचे मणिक्य रखने से भी लंबे समय से चल रही रोग दूर हो जाते हैं और रोगी स्वस्थ होने लगता है।
  4. यदि परिवार में कोई रोगी है और किसी भी उपचार से ठीक न हो रहा हो तो रोगों से मुक्ति के लिए रविवार के दिन से प्रारम्भ करते हुए निरंतर 3 दिन गेहूं के आटे का एक पेडा बनाये (जैसे रोटी बनाते समय बनाते हैं ) और एक लोटा पानी रोगी व्यक्ति के सिर के उपर से तीन बार anti clockwise घुमाकर गेंहूॅ के पेडे को गाय को खिला दें और जल किसी पेड़ की जड़ में डाल दे ,ऐसा करने से उस रोगी को अवश्य ही स्वास्थ्य लाभ होगा। ऐसा करते समय यदि पहले दिन के बाद ही रोगी स्वस्थ अनुभव करे तब भी इस उपाय को बंद न करें
  5. शुक्ल पक्ष को सोमवार के दिन जटा वाले सात नारियल लेकर ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करते हुए नदी में प्रवाहित करें। रोगों से मुक्ति के लिए और दरिद्रता दूर करने का ये बहुत ही अच्छा उपाय है।
  6. किसी शनिवार या मंगलवार एक जटा वाला नारियल लाल कपड़े में लपेट कर रोगी व्यक्ति के सिर पर से 7 बार anti clockwise घुमाकर हनुमान जी के चरणों में रखने से रोगी को रोगों से मुक्ति मिलती है और वो शीघ्र स्वस्थ होता है ।
  7. यदि कोई व्यक्ति गंभीर रूप से रोगी है तो आप एक तांबे का सिक्का लेंकर रात में सोते समय उसके सिराहने रख दें और दूसरे दिन प्रातः उस सिक्के को किसी भी शमशान में फेंक दें , ऐसा करने से स्वास्थ्य में सुधर आने लगेगा , वैसे सभी को कब्रिस्तान या शमशान घाट जाने पर या वहां से गुजरते समय कुछ पैसे गिरा देने चाहिए , इससे हम स्वस्थ रहते हैं और संकट दूर होते है ।
  8. रोगों से मुक्ति के लिए कंबल का उपाय भी बहुत असरदायक होता है , इस उपाय में अस्वस्थ व्यक्ति के सिर से दोहरे रंग का कंबल जिसमे काला और सफेद रंग हो सात बार anticlockwise घुमाकर किसी को दान कर दें। ऐसा करने से वो व्यक्ति स्वस्थ होने लगेगा 
  9. यदि कोई व्यक्ति नकारात्मक ऊर्जा से प्रभावित है तो उस नकारात्मक ऊर्जा अर्थात नेगेटिव एनर्जी को दूर करने के लिए नारियल एक अचूक उपाय है। ऐसे में उस व्यक्ति के शरीर पर से एक नारियल 11 बार anti clockwise घुमाले और उस नारियल को जला दे और उसकी राख को किसी बहते जल में बहा दें। ऐसा करने से नेगेटिव एनर्जी दूर हो जाएगी और वो व्यक्ति स्वस्थ हो जायेगा । 
  10. यदि अनेक ज्योतिषीय उपाय के बाद भी कोई रोग यदि ठीक नहीं हो रहा तो रोगी व्यक्ति के बेड के चारों पाए पर आप गोमती चक्र को एक चांदी की तार में पिरो दें और उसे रोगी व्यक्ति के सोने वाले बेड के सिरहाने बांध दें। ऐसा करने से रोग दूर होने लगेंगे और और वो स्वस्थ होने लगता है
  11. यदि कोई व्यक्ति किसी भी प्रेत बाधा से पीड़ित है और उसका स्वास्थ्य गिरता ही जा रहा है तो रोगी का स्वास्थ्य अच्छा करने और प्रेत बाधा से मुक्ति के लिए निरंतर 21 दिन तक प्रतिदिन सूर्यास्त के समय गाय का आधा किलो दूध लें , उसमें 9 बूंद शुद्ध शहद और 10 बूंद गंगा जल की डाल लें और स्वच्छ और शुद्ध वस्त्र पहनकर एक शुद्ध बर्तन में शहद और गंगाजल मिश्रित इस दूध को लेकर अपने अराध्य देवता और माँ गंगा का नाम लेते हुए पूरे घर में इस जल का छिड़काव करें।छिड़काव करने के बाद थोडा सा जल बचा लें और मुख्य दरवाजे पर आकर इस दूध मिले जल को एक धार में बांधकर गिरा दें और साथ में इस दोहे को बोलते रहे -* संकट कटे मिटे सब पीरा। जो सुमिरे हनुमत बलवीरा।। * ये पूरी क्रिया 21 दिन तक नित्य करते रहें।इस ज्योतिषीय उपाय से भी व्यक्ति को प्रेत बाधा और रोगों से मुक्ति मिलती है और वो स्वस्थ होने लगता है 
  12. गंभीर रोगों से मुक्ति के लिए किसी मंगलवार या शनिवार को जटा वाला एक नारियल ( जिसके अन्दर नारियल पानी भी हो ) रोगी व्यक्ति के ऊपर से 21 बार anticlockwise घुमा दे और उस नारियल को बाद में किसी मंदिर में ले जाकर जला दें ,किसी देवी मंदिर में हो रहे हवन में इस नारियल की आहुति देने से भी रोगी स्वस्थ होने लगता है, इस उपाय को रोगी व्यक्ति स्वंम भी कर सकता है
  13. रोगों से मुक्ति के लिए पीपल के वृक्ष की सेवा करना भी बहुत फलदायी होता है , इसमें रविवार को छोड़कर नियमित रूप से सप्ताह के सभी दिन प्रातः स्नानादि कार्यों से निवृत हो पीपल के वृक्ष की जड़ पर गुड मिला मीठा जल अर्पित करें और पीपल की जड़ को छूकर अपने माथे से लगाएं और पीपल देव से अपने रोगों को दूर करने की प्रार्थना करें , इस उपाय में पुरुषों को पीपल की 7 बार परिक्रमा करनी चाहिए, महिलाओं को परिक्रमा नही करनी चाहिए , इस उपाय को निरंतर करने से रोगी व्यक्ति स्वस्थ होने लगता है ।
  14. यदि कोई व्यक्ति मानसिक रोगी है तो रात के समय एक तांबे के एक लोटे में जल भरकर रोगी व्यक्ति के सिरहाने रख दें और दुसरे दिन इस जल को घर के बाहर बबूल – कीकर या किसी कांटेदार वृक्ष की जड़ में गिरा दे , ऐसा करते समय ये ध्यान रखें कि इस जल के छींटे आपके पैरों या शरीर पर न पड़ें।
  15. यदि कोई रोगी लंबे समय से रोग से ग्रस्त है तो प्रति माह किसी एक दिन अपनी इच्छा और सार्थ्यनुसार किसी hospital जाकर वहाँ दवा और फलों का वितरण करना चाहिए। इससे घर में रोग कम आते हैं और पारिवार के सदस्य स्वस्थ रहते हैं ।
  16. रोगों से मुक्ति के लिए प्रति मंगल और शनिवार को रोगी के ऊपर से इमरती को 7 बार anti clockwise घुमाकर कुत्तों को खिलानें से धीरे धीरे रोग दूर होने लगते हैं ।

रोगों से मुक्ति के ज्योतिषीय उपाय-supernatural healthy tips

साथियों यहाँ बताये गए रोगों से मुक्ति के ज्योतिषीय उपाय के अतिरिक्त अनेक उपाय हैं और इन्हें आप supernatural healthy tips कह सकते हैं , वैसे सभी व्यक्तियों की ग्रह दशा उसकी कुंडली से पता चलती है और सबके लिए रोगों से मुक्ति के ज्योतिषीय उपाय भिन्न भिन्न हो सकते हैं लेकिन यहाँ बताये गए उपाय कोई भी कर सकता है और उसे निश्चित ही लाभ होगा 

ये भी पढ़े : 9 planets & their astrological remedies ग्रहों का प्रभाव

टेक्निकल ज्ञान : computer में CPU क्या होता है , कैसे काम करता है ऐसे ही सभी प्रश्नों का उत्तर जानने के लिए …

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!