Sunday, September 25
Shadow

Bhairav Aarti in Hindi & English – श्री भैरव आरती

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Bhairav Aarti in Hindi & English – श्री भैरव आरती

Bhairav Aarti in Hindi & English – श्री भैरव आरती

Bhairav Aarti in Hindi & English - श्री भैरव आरती

श्री भैरव आरती

Sri Bhairav Aarti in Hindi 

 

सुनो जी भैरव लाड़िले,कर जोड़ कर विनती करुं ।
कृपा तुम्हारी चाहिये, मैं ध्यान तुम्हरा ही धरूं ॥
मैं चरण छुता आपके,अर्जी मेरी सुन लिजिये ।
मैं हूं मति का मंद, मेरी कुछ मदद तो किजिये
महिमा तुम्हारी बहुत, कुछ थोड़ी सी मैं वर्णन करूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
करते सवारी स्वान की, चारो दिशा मे राज्य है
जितने भूत और प्रेत हैं ,सबके आप ही सरताज हैं
हथियार हैं जो आपके, उसका क्या वर्णन करूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
माता जी के समने तुम, नृत्य भी करते सदा
गा गा के गुण अनुवाद से,उनको रिझाते गन हो सदा
एक सांकली है आपकी , तारिफ उसकी क्या करूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
बहुत सी महिमा तुम्हारी,मेंहदीपुर सरनाम है
आते जगत के यात्री, बजरंग का स्थान है
श्री प्रेतराज सरकार के, मैं शीश चरणों मैं धरूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
निशदीन तुम्हारे खेल से, माताजी खुश रहें
सर पर तुम्हारे हाथ रख कर, आशिर्वाद देती रहें
कर जोड़ कर विनती करूं , अरु शीश चरणों मैं धरू
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
मैं चरण छुता आपके,अर्जी मेरी सुन लिजिये ।
मैं हूं मति का मंद, मेरी कुछ मदद तो किजिये
महिमा तुम्हारी बहुत, कुछ थोड़ी सी मैं वर्णन करूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
करते सवारी स्वान की, चारो दिशा मे राज्य है
जितने भूत और प्रेत हैं ,सबके आप ही सरताज हैं
हथियार हैं जो आपके, उसका क्या वर्णन करूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
माता जी के समने तुम, नृत्य भी करते सदा
गा गा के गुण अनुवाद से,उनको रिझाते गन हो सदा
एक सांकली है आपकी , तारिफ उसकी क्या करूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
बहुत सी महिमा तुम्हारी,मेंहदीपुर सरनाम है
आते जगत के यात्री, बजरंग का स्थान है
श्री प्रेतराज सरकार के, मैं शीश चरणों मैं धरूं
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
निशदीन तुम्हारे खेल से, माताजी खुश रहें
सर पर तुम्हारे हाथ रख कर, आशिर्वाद देती रहें
कर जोड़ कर विनती करूं , अरु शीश चरणों मैं धरू
॥ सुनो जी भैरव लाड़िले ॥
॥ इति श्री भैरव आरती ॥
Bhairav Aarti in Hindi & English - श्री भैरव आरती

श्री भैरव आरती

Sri Bhairav Aarti in English  

Jai Bhairav Deva, Prabhu Jai Bhairav Deva।
Jai Kali Aur Gaura devi Karat Seva॥
॥Jai Bhairav Deva॥Tumhi Aap Uddharak, Dukh Sindhu Taarak।
Bhakto Ke Sukh Karak, Bheeshan Vapu Dharak॥
॥Jai Bhairav Deva॥

Vaahan Shvaan Viraajat, Kar Trishul Dhari।
Mahima Amit Tumhari, Jai Jai Bhayahari॥
॥Jai Bhairav Deva॥

Tum Bin Devaa Pujan, Safal Nahi Hove।
Chaumukha Deepak, Darshak Dukh Khove॥
॥Jai Bhairav Deva॥

Tail Chatik Dadhi Mishrit, Bhashavali Teri।
Kripa Kariye Bhairav, Kariye Nahi Deri॥
॥Jai Bhairav Deva॥

Paanv Ghungharoo Baajat, Aaru Damaru Jamakavat।
Batuknath Ban Balakjan Man Harashavat॥
॥Jai Bhairav Deva॥

Batuknath Ki Aarati, Jo Koi Nar Gave।
Kahe Dharanidhar, Nar Manvanchit Phal Pave॥
॥Jai Bhairav Deva॥

ये भी पढ़े : 

–> Bhairav Aarti in Hindi & English – श्री भैरव आरती

–>श्री शनिदेव के सिद्ध मन्त्र और आरती( 9 shanidev mantra & aarti)

–>गायत्री माता की आरती Gayatri Mata Ki Aarti In Hindi & English easy 2 learn

–> आरती कुंजबिहारी की Aarti Kunj Bihari Ki in Hindi & English easy 2 learn

–>श्री कुबेर जी की आरती( sri kuber ji ki aarti in hindi )

–>माँ लक्ष्मी जी की आरती Maa Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics in Hindi & english

–>माँ सरस्वती जी की आरती Saraswati Mata Ki Aarti Lyrics in hindi & english

–>दुर्गा जी की आरती Durga Ji ki Arti in Hindi

–>हनुमान जी की आरती hanuman ji ki aarti

–> शिवजी की आरती bhagwan shiv ji ki aarti

–>गणेश जी की आरती Ganesh ji ki aarti in hindi english

–>विष्णु जी की आरती vishnu ji ki aarti in hindi english

–> श्री सूर्य देव की आरती : surya bhagwan ki aarti in hindi & english

–> श्री चंद्र देव की आरती : shri chandra dev ki aarti 

 

ये भी पढ़े : Vrindavan a 2 z easy tour guide||वृंदावन-प्रभु श्री कृष्ण की नगरी

****************************************

सरल भाषा में computer सीखें : click here

****************************************

 

अपने जानने वालों में ये पोस्ट शेयर करें ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!